On Page SEO Kaise Kare: SEO फ्रेंडली आर्टिकल कैसे लिखें

जब भी हम कोई आर्टिकल लिखते हैं तो हमारा मकसद होता है Google या अन्य Search Engine के टॉप पेज में रैंक करना . गूगल के टॉप पेज में रैंक करने के लिए हमें अपने आर्टिकल का On Page SEO अच्छे तरीके से करना होता है , तभी जाकर हम कुछ समय बाद Google के पहले पेज में रैंक करते हैं .

On Page SEO 99 % हमारे हाथ में होता है कि हम इसे कितने अच्छे तरीके से कर सकते है . इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बताएँगे कि On Page SEO Kaise Kare. मुझे पूरी उम्मीद है इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको किसी दूसरे आर्टिकल पर जाने की जरुरत नहीं पड़ेगी. तो चलिए शुरू करते हैं इस लेख को बिना देरी के –

On Page SEO Kaise Kare Complete Guide in Hindi

वैसे Google के Algorithm में बदलाव होते रहते है , जिसके कारण SEO की तकनीकी में भी बदलाव होते है . इस आर्टिकल में हम उन चीजों पर बात करेंगे जो गूगल के सर्च इंजन में स्थिर रहती है . मतलब On Page SEO के वे फैक्टर और Tricks जो पहले से चली आ रही है और आज भी काम करती हैं .

1 – Keyword Research ( कीवर्ड रिसर्च )

दोस्तों आर्टिकल लिखने से पहले हमेशा अच्छे से Keyword Research करना बहुत जरुरी होता है . जिस भी विषय पर आप आर्टिकल लिख रहे हैं उसके लिए पहले एक ऐसा Keyword ढूढ़ना जरुरी है, जिसे अधिक सर्च किया जाता है. और वह एक Low Competition Keyword हो .

कीवर्ड Short Tale भी होते है और Long Tale भी. और दोनों प्रकार के कीवर्ड सर्च इंजन पर रैंक करते है. अगर आप Blogging के फील्ड में नए हो तो आपको हमेशा Long Tale कीवर्ड और Low Competition कीवर्ड पर ही काम करना चाहिए तभी आप Blogging में जल्दी सफलता पा सकते हो

Short Tale Keyword वे Keyword होते हैं जिसमें 1 से 3 word होते हैं. जैसे What is SEO.

Long Tale Keyword वे Keyword होते हैं जिसमें 3 से अधिक word का प्रयोग होता है. जैसे What is SEO in hindi

जब हम Article लिखते हैं उसमें दो प्रकार के Keyword का इस्तेमाल करते हैं – Primary Keyword और Secondary Keyword

  • Primary Keyword –  जो हमारा प्रमुख कीवर्ड होता है उसे हम Primary Keyword कहते हैं. Primary Keywordहमारा Focus Keyword भी होता है. Primary Keyword पुरे आर्टिकल में हमेशा एक ही होता है. जैसे यह Article मैं On Page SEO पर लिख रहा हुँ. तो मेरा Primary कीवर्ड है On Page SEO Kaise Kare. यह एक Long Tale कीवर्ड है .
  • Secondary Keyword – जब भी हम कीवर्ड रिसर्च करते हैं तो Primary Keywordके अलावा कुछ और LSI Keyword निकाल के रखते हैं. इन्ही LSI कीवर्ड को हम Secondary Keyword कहते हैं. इन कीवर्ड का प्रयोग हम अपने आर्टिकल के H2 , H3 , H4 हैडिंग में, अपने कुछ पैराग्राफ में ,अपने Meta Descriptionमें करते हैं .

2 – Article में Keyword Placement कैसे करें 

कीवर्ड रिसर्च करने के बाद हमें अपने आर्टिकल में कीवर्ड की Placement अच्छे से करनी होती है, अपने article में अधिक बार अपने Keyword का इस्तेमाल करने से हमें बचना चाहिए. इस Article में हमने आपको Keyword की Best Placement बताई है अगर आप भी इसी प्रकार से अपने Keyword की Placement करते हैं तो आपका Article के Rank होने की संभावना बढ़ जाएगी.

Keyword Placement

Title Tag में Focus Keyword Add करें 

जो हमारा Primary Keywordहै उसे हमेशा अपने Title Tag पर Add करना होता है. Title Tag अधिकतम 20- 30 शब्दों का होता है, आप इससे कम शब्दों का भी Title Tag लिख सकते है. कीवर्ड को हमेशा Title Tagके शुरुवात में लिखना चाहिए .

जैसे मैं यह आर्टिकल लिख रहा हूँ, इसका Title है ‘On Page SEO Kaise Kare : SEO फ्रेंडली आर्टिकल कैसे लिखें ‘. इसमें मैंने अपने Primary Keywordको शुरुवात में लिखा है .

Main Heading या H1 Tag में

हमारे जो Main Heading , Sub Heading, Minor heading (H1, H2, H3, H4 ) होते है ये SEO के नजरिये से बहुत महत्वपूर्ण होते है .

अगर हम अपने हैडिंग पर H1, H2, H3, H4 टैग नहीं लगाते हैं,और इनके स्थान पर अपने हैडिंग की फॉर्मेटिंग करते हैं , तो कोई Readers  तो आसानी से पढ़ लेगा कि हमारी मेन हैडिंग क्या है, और बाकी हैडिंग क्या है.

लेकिन जो Google bots होते है वो समझ नहीं पाते है कि हमारा पेज कहाँ से शुरु है और कौन से पैराग्राफ हैं और हैडिंग क्या है. इसलिए Google bots को समझाने के लिए ये टैग बहुत महत्वपूर्ण हैं.

हमने अपने पूरे आर्टिकल में केवल एक ही H1 Tag देना है. और जो हमारा H1 टैग है उसमे हमें अपने Primary Keyword को Add करना है. H1 टैग की मदद से हम Google bots को ये बताते हैं कि हमारा आर्टिकल किस विषय पर है.

पहले और अंतिम पैराग्राफ ( Paragraph ) में 

हमने अपने पहले पैराग्राफ और अपने अंतिम पैराग्राफ में Primary Keyword को जरूर add करना है.  अगर हमारा Focus Keyword पहले और अंतिम Paragraph में आता है तो Search Engine में हमारी Website के Content बेहतर Performance करते हैं.

Meta Description में 

हमारा Description हमारे पुरे आर्टिकल का संक्षिप्त रूप होता है , जिसमे हम बताते हैं कि हमारा आर्टिकल किस विषय पर लिखा गया है. हम अधिकतम 150 शब्दों का Description लिख सकते है, हमने अपने Description के शुरुवात मेंअपने Primary Keyword को लिखना है.

Meta Description को Attractive लिखना बहुत जरुरी होता है क्योकि जब भी कोई User Search Engine के Through हमारी Website पर आता है तो उसे Title और Meta Description ही दिखाई देते हैं, अगर यह दोनों आकर्षक लिखे होंगे तो user जरुर हमारी Website पर आएगा.

Permalink में 

Permalink हमारे Content का URL होता है. हमने अपने परमालिंक में भी अपने Primary Keyword को add करना है. जैसे मेरे इस पोस्ट का परमालिंक है https://www.hinditechdr.com/on-page-seo-kaise-kare इसमें मैंने अपने Primary Keyword को add किया है. ध्यान रहे परमालिंक में  कीवर्ड के बीच में (-) का चिन्ह जरूर लगाना है.

नोट – आर्टिकल में अपने कीवर्ड की प्लेसमेंट करते समय हमें अपने कीवर्ड की फॉर्मेटिंग ( Bold , Underline , Italic ) जरुर करनी है. इसके अलावा हमने ये कोशिश भी करनी है कि हमारे पुरे आर्टिकल में हमारा Primary Keyword 0.5% बार ही आना चाहिए. माना हम 1000 शब्दों का आर्टिकल लिखते है तो इसमें हमारा कीवर्ड अधिकतम 5 -6 बार ही आना चाहिए.

3 –  External Link का इस्तेमाल करें 

हम अपने वेबपेज में आवश्यकतानुसार आउटगोइंग लिंक या External Link का प्रयोग कर सकते हैं. जिन External Link का इस्तेमाल करें वह सही होने चाहिए. मतलब हमने जिस Word  या Topic के लिए लिंक लगाया है उसे उसी Topic से Relevant पेज में Redirect होना चाहिए.

4 – Interlinking करें 

Interlinking बहुत महत्वपूर्ण होता है , Internal Linking से कोई भी यूजर हमारे वेबसाइट में ज्यादा समय तक रहता है जिससे हमारा Bounce Rate Maintain रहता है और साथ में ही Interlinking से Link Juice भी pass होता है.

5 – Image SEO करें 

हमें अपने Image का SEO करना भी जरुरी होता हैं. क्योंकि अधिकतर यूजर इंटरनेट पर इमेज देखना भी पसंद करते है. ऐसे में जब हमारी इमेज टॉप पर आएगी तो यूजर हमारी इमेज पर क्लिक करके हमारे वेबसाइट तक पहुँच सकते हैं. इमेज SEO निम्न प्रकार से करते हैं –

  • हमें हमेशा कॉपीराइट फ्री इमेज का प्रयोग करना है. इंटरनेट पर बहुत सारी वेबसाइट हैं जो फ्री में इमेज provide कराती हैं. जैसे – Pixabay Pixels
  • अपने इमेज का नाम अपना Primary Keyword add कर सकते हैं.  
  • अपने इमेज के Alt Text में Primary Keyword add करें और Description में भी Keyword add करने होते हैं.

6 – Unique Article लिखें 

दोस्तों गूगल में हमारी वेबसाइट तभी जल्दी रैंक कर पाती है जब हमारा आर्टिकल यूनिक होता है, अगर हम किसी दूसरी वेबसाइट से कॉपी / पेस्ट करके अपना आर्टिकल लिखते है तो हम गूगल में रैंक करने की संभावना कम हो जाती है और साथ में आपको Punishment भी झेलनी पड़ सकती है.

और कॉपी / पेस्ट करने से गूगल हमारी वेबसाइट को ब्लॉक भी कर सकता है. इसलिए हमेशा कोशिश यही करनी चाहिए कि Unique Article लिखें.

आपको गूगल पर बहुत सारे टूल मिल जायेंगे जो आपको बता देंगे कि आपका आर्टिकल यूनिक है या नहीं. आपको गूगल पर Type करना है – Free Plagiarism Checker , यहाँ आपको बहुत सारे फ्री टूल मिल जायेंगे. लेकिन इन Tools पर आँख बंद करके भरोसा नहीं करना चाहिए. इसलिए आपने आर्टिकल खुद से ही लिखना है तभी आप Blog से अच्छे पैसे कमा सकोगे. 

7 – Article Length 

हमें हमेशा कोशिस करनी चाहिए कि हमारा आर्टिकल 1000 से 1500 शब्दों का हो क्योंकि जिन आर्टिकल की length अधिक होती है उनके गूगल में रैंक करने के चांस बढ़ जाते हैं.

जब भी आप Article लिखें तो कोशिस करें कि पूरी जानकारी दें और अधिक से अधिक Topic Cover करें, ऐसा करने से आपके पास लिखने के लिए बहुत कुछ होगा.

8 – User friendly Article लिखें 

हमारा आर्टिकल User friendly होना चाहिए , जिससे कि कोई भी यूजर हमारी वेबसाइट पर आये तो उसे पढ़ने में आसानी हो , और यूजर को अपने प्रश्नो का संतोषजनक जवाब मिले. जिससे कि वो हमारे वेबसाइट पर ज्यादा देर तक रहे.

आर्टिकल को यूजर फ्रेंडली बनाने के लिए हम अपने टाइटल को आकर्षक लिख सकते हैं , आर्टिकल को पैराग्राफ के रूप में लिख सकते है और इसके अलावा बुलेट या नंबर का प्रयोग भी कर सकते हैं. हमने आर्टिकल को इस प्रकार लिखना है कि हमारे वेबसाइट में आने वाले सबसे कमजोर यूजर को भी आसानी से समझ आ जाये.

यह लेख भी पढ़ें –

हमने क्या सीखा: On Page SEO Kaise Kare

तो दोस्तों आज के इस लेख में हमने सीखा कि एक SEO Friendly Article कैसे लिख सकते हैं. अगर आप इन सभी बातों को ध्यान में रखकर अपना आर्टिकल लिखते हो तो आप गूगल में जल्दी रैंक कर जाओगे.

उम्मीद करता हूँ कि अब आप समझ गए होंगे कि हम On Page SEO Kaise Kare, जिससे कि हमारी वेबसाइट गूगल पर जल्दी रैंक करेगी. अगर अभी भी आपके On Page SEOको लेकर कोई भी डॉउट हैं तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं और यदि आपको लेख पसंद आया तो सोशल मीडिया पर शेयर करना मत भूलियेगा. धन्यवाद ||

Categories SEO

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||

2 thoughts on “On Page SEO Kaise Kare: SEO फ्रेंडली आर्टिकल कैसे लिखें”

  1. आपका ब्लॉगिंग के विषय मे काफी नॉलेज है। आपका पोस्ट मुझे पढ़ने में रोचक लगता है। ऐसे सुंदर लेख के धयनवाद।

    Reply

Leave a Comment