Server Kya Hota Hai और Server Down क्यों होता है

आपने Server का नाम तो जरुर सुना होगा और अधिकतर आप बैंक में या कोई सरकारी फॉर्म की वेबसाइट में जरुर सुनते होगे कि Server Down है. तब आपके दिमाग में यह विचार आता होगा कि आखिर Server Kya Hota Hai और यह down क्यों होता है.

Technical Field वालों के लिए Server बहुत ही नार्मल बात है. अगर आप Technical field से नहीं हो और server के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हो तो यह आर्टिकल पूरा पढ़े. इसमे मैंने आपको server की पूरी जानकारी detail के साथ बताई है.

इस लेख में आपको जानने को मिलेगा कि सर्वर क्या है, सर्वर कैसे काम करता है, सर्वर डाउन क्यों होता है और सर्वर कितने प्रकार का होता है. तो चलिए आपका ज्यादा समय न लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को.

सर्वर क्या होता है (What is Server in Hindi)

अगर मैं आपको server के बारे में सीधे Technically भाषा में बता दूँ तो शायद इस ब्लॉग को पढ़ने वाले सारे readers अच्छे से नहीं समझ पाएंगे, इसलिए Server को आसान शब्दों में समझने के लिए एक वास्तविक जीवन के उदाहरण के द्वारा समझते हैं.

माना आप किसी होटल या रेस्टोरेंट में जाते हैं. और वहां अपनी पसंद का खाना आर्डर करते हैं. फिर होटल में जो वेटर काम करते हैं वह अपने स्टोर में जायेंगे और आपको आपकी पसंद का खाना सर्व करते हैं. तो इस प्रकार से जो वेटर हैं वो एक प्रकार से होटल के सर्वर हैं जो कस्टमर को उनके आर्डर के अनुसार खाना सर्व करते हैं.

अब इस उदाहरण में –

  • जो होटल के कस्टमर है वह हम हैं जो इन्टरनेट पर जानकारी सर्च करते हैं.
  • होटल के वेटर server हैं , जो हमें सर्विस Provide करते हैं.
  • स्टोर डाटा सेंटर है, जहा सभी जानकारी Save रहती है.

ठीक इसी प्रकार इन्टरनेट की दुनिया में भी होता है, जब भी हम कुछ जानकारी इन्टरनेट पर सर्च करते हैं तो हमें कोई चाहिए होता है जो हमें यह सब कुछ सर्व करके दे. इन्टरनेट में इस काम को सर्वर के द्वारा किया जाता है. सर्वर हाई quality के कंप्यूटर होते हैं.

Server बहुत ही हाई पॉवर के कंप्यूटर होते हैं. और उन कंप्यूटर में ऐसे सॉफ्टवेयर इनस्टॉल कर दिए जाते हैं जो सर्विस Provide कराते हैं. इन्ही हाई पॉवर के कंप्यूटर को Server कहा जाता है.

Server की परिभाषा (Definition of Server)

इंटरनेट जहाँ सूचनाओ का अथाह भंडार है, इन सूचनाओ की सर्विस यूजर तक करने वाले माध्यम को server कहा जाता हैं.

Server कैसे काम करता है

अब तक आप समझ गए होंगे कि Server Kya Hota Hai अब जानते हैं यह काम कैसे करना है. 

जब भी आप Google, YouTube या किसी अन्य सर्च इंजन में कुछ भी सर्च करते हैं तो सर्वर सेकेण्ड के अन्दर आपके द्वारा सर्च की जाने वाली Query से Related जानकारी को आपके सामने लाकर दे देता है. सर्वर के काम करने की प्रणाली इस प्रकार रहती है –

जब आपने Query को सर्च किया तो सर्वर आपकी request को लेकर अपने डाटा सेंटर में जाते हैं. फिर वहां से आपकी Query से सम्बंधित जानकारी लाकर आपको दिखाते हैं.

जैसे आप YouTube में कोई Video देखते हैं तो वह विडियो You – Tube के डाटा सेंटर में Store रहता है और जब आप उस विडियो को सर्च करते हैं तो You – Tube का सर्वर हमें वह विडियो अपने Data Center से लाकर देता है.

इसी प्रकार फेसबुक पर हमारे द्वारा कई साल पहले पोस्ट किये गए फोटो भी हमें दिखाई देती है. हमारी वह फोटो फेसबुक के डाटा सेंटर में सेव रहती है और जब हम उसे देखने के लिए फोटो पर क्लिक करते हैं तो फेसबुक का सर्वर हमें वह फोटो दिखता हैं.

Server Down क्यों होता है

आपने किसी बैंक या सरकारी वेबसाइट पर देखा होगा या सुना होगा कि आज सर्वर डाउन है. तो अब सवाल यह आता है कि सर्वर डाउन क्या होता है ,और यह डाउन क्यों होता है.

ऊपर मैंने एक होटल के उदाहरण के द्वारा आपको समझाया है, अब मान लीजिये एकाएक उस होटल में हजारो की संख्या में लोग आ गए हैं. तो अब क्योकि वहां काम करने वाले स्टाफ की संख्या तो फिक्स है, तो अधिक लोग आने से वहाँ के काम करने की व्यवस्था चरमरा जाएगी. आर्डर की सर्विस करने में बहुत समय लगेगा.

ठीक इसी प्रकार इन्टरनेट की दुनिया में भी होता है, इन्टरनेट की दुनिया में भी सभी सर्वर की एक निश्चित कैपेसिटी रहती है कि वह कितना ट्रैफिक हैंडल कर सकता है. मतलब कि एक समय में उस वेबसाइट के कितने लोग आ सकते हैं.

जब एकाएक उस वेबसाइट में मिलियन में ट्राफिक आ जाता है, या कहे उस वेबसाइट के सर्वर की कैपेसिटी से अधिक ट्रैफिक उस वेबसाइट में आ जाता है तो सर्वर में लोड पड़ जाता है. सर्वर में लोड पड़ने की वजह से या तो साईट खुलने में बहुत अधिक समय लगता है या सर्वर फेल हो जाता है. सर्वर के फेल होने को ही हम server down कहते हैं.

सर्वर के प्रकार (Types of Server in Hindi)

Server कई प्रकार के होते हैं लेकिन मैं कुछ महत्वपूर्ण सर्वर की जानकारी आपको दूंगा.

1 – Web Server

इन्टरनेट में मौजूद जितनी भी वेबसाइट है उन सभी के डाटा को सर्विस करने का काम Web Server करता है. जब भी कोई यूजर अपने ब्राउज़र में कुछ Query सर्च करता है तो web server उसकी request को लेकर अपने डाटा सेंटर में जाता है और उस वेबसाइट का डाटा यूजर के ब्राउज़र में सर्व करता है.

2 – Mail Server

हम जितनी भी Email करते हैं उन सभी की सर्विस करने का काम Mail Server करता है.

3 – Audio / Video Server

Audio / Video Server वह server होते है जो इन्टरनेट में मौजूद सभी Audio – Video को सर्व करते हैं.

4 – File Server

इस server का उपयोग files को एक स्थान से दुसरे स्थान में सर्व करने के लिए किया जाता है.

5 – Chat Server

ऑनलाइन दुनिया में हम जितनी भी Chat करते है उन सभी को सर्व करने का काम चैट server का होता है. Chat server की मदद से हम आज इतनी ज्यादा बातें बहुत आसानी से कर पा रहे हैं.

6 – FTP Server (File Transfer Protocol)

यह एक बहुत ही पुराना server है. इन्टरनेट में files के सुरक्षित आदान – प्रदान के लिए FTP Server का उपयोग किया जाता है.

7 – Proxy Server

यह एक intermediate server होता है. यह यूजर की request को Indirect तरीके से इन्टरनेट तक पहुंचता है और वहां से जानकारी लेकर यूजर तक पहुचांता है.

जब भी कोई यूजर इन्टरनेट पर कुछ सर्च करता है तो इन्टरनेट यूजर के  IP Address के माध्यम से यह जान लेता है कि यह जानकारी किसे दी जा रही है. अब अगर यूजर Proxy Server का प्रयोग करते हो तो proxy server आपकी request को लेता है और इन्टरनेट पर जाता है.

यहाँ पर proxy server इन्टरनेट से यूजर की पहचान छुपा देता है. मतलब यूजर की IP Address ,Location को छुपा देता है. और इन्टरनेट से जानकारी लेकर यूजर को देता है. जिससे इन्टरनेट को पता नहीं चल पाता है कि यह जानकारी किसे दी जा रही है. proxy server का उपयोग Security के लिए किया जाता है.

Dedicated Server और Non- Dedicated Server क्या है

चूँकि सर्वर एक कंप्यूटर ही होता है. आप भी अपने कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर इनस्टॉल करके उसे सर्वर बना सकते हो. अगर आप अपने सर्वर में 24 घंटे ऑनलाइन नहीं रहते हो तो ऐसे सर्वर को non – dedicated server कहते हैं. जैसे स्कूल , ऑफिस में प्रयोग किया जाने वाले सर्वर.

ऐसे सर्वर जो 24 घंटे ऑनलाइन होते है उन सर्वर को dedicated server कहते है. जैसे गूगल, यू – ट्यूब, वेबसाइट के सर्वर. यह बहुत महंगे होते है क्योकि ये बहुत हाई पॉवर के कंप्यूटर होते है. इनका स्टोरेज , RAM , प्रोसेजर सब बहुत हाई क्वालिटी का होता है.

यह लेख भी पढ़ें –

आपने क्या सीखा : Server Kya Hota Hai हिंदी में

इस लेख के माध्यम से हमने जाना कि Server Kya Hota Hai और Server के बारे में ढेर सारी जानकारी आपके साथ साझा की जिसे पढने के बाद आप सर्वर को अच्छी तरह समझ गए होंगे.

मैंने पूरी कोशिस की है कि आसान भाषा में आपको Server की जानकारी दे सकूँ. उम्मीद करता हूँ कि आपको यह लेख जरुर पसंद आया होगा इस लेख को अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करें. धन्यवाद ||

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||

Leave a Comment