Single Niche vs Multi Niche Blog: किसमें है ज्यादा कमाई?

जब भी एक नया ब्लॉगर अपना Blog बनाता है तो उसे ठीक तरह से पता नहीं होता है कि किस टॉपिक पर ब्लॉग लिखना है, इसलिए वह दुसरे – दुसरे ब्लॉग को देखकर सभी विषयों के बारे में लिखने लगता है. क्योंकि एक नए ब्लॉगर को पता नही होता है कि Single Niche और Multi Niche ब्लॉग क्या होते हैं. और इनके फायदे व नुकसान क्या होते हैं.

आज के इस लेख में हम आपको Single Niche vs Multi Niche Blog in Hindi के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं जिसे पढ़कर आपको ब्लॉगिंग में काफी मदद मिलेगी. और आप समझ जायेंगे कि किस प्रकार का ब्लॉग ज्यादा बेहतर होता है, और आपको दोनों में से किस प्रकार का ब्लॉग बनाना चाहिए.

तो चलिए आपका अधिक समय न लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को.

Single Niche vs Multi Niche Blog – परिचय

Single Niche Blog – ऐसा ब्लॉग जिस पर केवल एक ही टॉपिक के बारे में लिखा जाता है उसे Single Niche ब्लॉग कहते हैं. जैसे अगर कोई ब्लॉग टेक्नोलॉजी के ऊपर है तो आपको उस ब्लॉग में केवल टेक्नोलॉजी से ही सम्बंधित जानकारी मिलेगी.

Multi Niche Blog – ऐसा ब्लॉग जिस पर एक से अधिक विषयों के बारे में लिखा जाता है, या हम कह सकते हैं जिस ब्लॉग पर भिन्न – भिन्न विषयों के बारे में लिखा जाता है, तो इस प्रकार के ब्लॉग को Multi Niche Blog कहते हैं. इस प्रकार के ब्लॉग में टेक्नोलॉजी, स्वास्थ, सेहत, फैशन किसी भी विषय में आपको लेख मिल जायेंगे. हिंदी में अधिकतर ब्लॉग Multi Niche Blog हैं.

Single Niche vs Multi Niche Blog in Hindi : तुलना

चलिए अब हम दोनों प्रकार के ब्लॉग की कुछ पॉइंट को आधार मानकर तुलना करते हैं जिससे आपको समझने में आसानी होगी कि कौन सा ब्लॉग बनाना बेहतर है.

1 – कौन जल्दी रैंक करता है?

सिंगल निच ब्लॉग, मल्टी निच की तुलना में बेहतर रैंक करते हैं. क्योकि सिंगल निच में सर्च इंजन आसानी से समझ जाते हैं कि ब्लॉग किस विषय पर लिखा जा रहा है, कौन – कौन से टॉपिक ब्लॉग में Cover किये जा रहे हैं.

जबकि मल्टी निच में ऐसा नहीं होता है सर्च इंजन को समझने में Time लगता है कि ब्लॉग किस विषय पर लिखा जा रहा है. इसलिए मल्टी निच ब्लॉग के रैंक होने में अधिक समय लगता है.

Winner - Single Niche Blog

2 – ट्रैफिक किसमे ज्यादा आता है?

मल्टी निच ब्लॉग में सिंगल निच की तुलना में अधिक ट्रैफिक होता हैं. क्योकि मल्टी निच ब्लॉग में बहुत सारे विषयों पर आर्टिकल लिखे होते हैं जिससे उन पर ट्रैफिक भी ज्यादा आता है.

जबकि सिंगल निच ब्लॉग में ट्रैफिक जरुर कम होता है पर इसमें जो ट्रैफिक होता है वह Quality ट्रैफिक होता है. ट्रैफिक के मामले में मल्टी निच ब्लॉग बेहतर है.

Winner - Multi Niche Blog 

3 – किस पर लोग अधिक भरोसा करते हैं ?

सिंगल निच ब्लॉग पर लोग भरोसा करते हैं क्योकि पूरा ब्लॉग एक विषय पर लिखा होता है. पढने वाले को लगता है कि ब्लॉग ऑथर अपने Niche में विशेषज्ञ है. इसलिए लोग इस प्रकार के ब्लॉग पर अधिक भरोसा करते हैं.

मल्टी निच ब्लॉग पर लोग कम भरोसा करते हैं. क्योकि ऐसे ब्लॉग पर यूजर को Blog Author एक विषय पर विशेषज्ञ नहीं लगता है. एक उदाहरण के द्वारा समझते हैं.

माना आपके फ़ोन में कोई खराबी आ जाती है तो आप ऐसी दुकान पर फोन दिखना पसंद करेंगे जहाँ पर केवल फ़ोन ही ठीक किये जाते हैं न कि किसी ऐसी दुकान में जाना पसंद करेंगे जहाँ राशन भी मिलता है, फैशन का सामान भी मिलता है, फोन भी ठीक होता है.

यही ऑनलाइन दुनिया में भी होता है लोग अपनी समस्या लेकर किसी Specialist के पास ही आते हैं. इसलिए सिंगल निच ब्लॉग हमेशा भरोसेमंद ब्लॉग होते हैं.

Winner - Single Niche Blog

4 – किसका SEO करना आसान है ?

सिंगल निच ब्लॉग का SEO करना आसान होता है. सिंगल निच ब्लॉग में Internal Linking करने में आसानी होती है, Backlink बनाने में आसानी होती है.

वही दूसरी ओर मल्टी निच ब्लॉग में इंटरनल लिंकिंग के लिए आपको हर केटेगरी पर ढेर सारे आर्टिकल लिखने होते हैं, और बैकलिंक भी हर केटेगरी के लिए अलग – अलग से बनानी होती है.

Winner - Single Niche Blog

5 – किसमें कमाई ज्यादा होता है ?

Google AdSense से मल्टी निच ब्लॉग में अधिक कमाई होती है. गूगल एड्सेंस सभी ब्लॉगर का पसंदीदा और भरोसेमंद Ad Network है. यह अपने पब्लिशर को Revenue भी अच्छा देता है.

लेकिन अगर बात करें एफिलिएट मार्केटिंग, Consultancy Service, कोर्स बेचना आदि की तो सिंगल निच ब्लॉग में इससे बहुत अच्छी कमाई होती है. क्योकि सिंगल निच ब्लॉग भरोसेमंद ब्लॉग होते हैं, जिसके कारण इन पर आने वाला ट्रैफिक इनके Permanent Readers बन जाते हैं. और इनके एफिलिएट लिंक से प्रोडक्ट खरीदते हैं.

कमाई दोनों प्रकार के ब्लॉग से अच्छी – खासी होती है, लेकिन यहाँ पर सिंगल निच को हम इसलिए विजेता घोषित करेंगे क्योंकि इसमें कमाई के ज्यादा सोर्स उपलब्ध होते हैं. जिससे आपको एड्सेंस की तुलना में बहुत ज्यादा कमाई कर सकते हैं.

Winner - Single Niche Blog 

Single Niche vs Multi Niche: हमारी राय

अगर आप खुद को एक ब्रांड के रूप में स्थापित करना चाहते हैं, तो निश्चित रूप से आपको सिंगल निच ब्लॉग बनाना चाहिए, क्योंकि इस प्रकार के ब्लॉग में आपके पास कमाई करने के लिए सीमित विकल्प नहीं होते हैं, और आप भविष्य में अपने ब्लॉग से ही अपना बिज़नस खड़ा कर सकते हैं.

लेकिन अगर आपका मुख्य उद्देश्य गूगल एड्सेंस से पैसे कमाना और ब्लॉग पर ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक लेकर आना है तो आप मल्टी निच ब्लॉग बना सकते हैं. इसमें आपके ब्लॉग पर बहुत अधिक ट्रैफिक होगा, लेकिन आपके कमाई के विकल्प सीमित हो जाते हैं.

माना आप कंप्यूटर का कोई कोर्स बेचना चाहते हैं, और आपका ब्लॉग मल्टी निच है जिसमें अनेक सारे विषयों पर लेख हैं. अगर आपके ब्लॉग पर 1 लाख लोग आते हैं तो उसमें से मुश्किल से 10 लोग भी आपका कोर्स नहीं लेंगे. क्योंकि ऐसा जरुरी नहीं है कि वे लोग आपके ब्लॉग पर केवल कंप्यूटर की जानकारी लेने आये थे.

लेकिन वहीँ आपका ब्लॉग सिंगल निच है जिसमें आप केवल कंप्यूटर के विषय में लिखते हैं तो आपके ब्लॉग में 10 हजार लोगों में से 100 लोग जरुर आपका कोर्स लेंगे. क्योंकि वे आपके ब्लॉग पर कंप्यूटर की जानकारी लेने ही आये थे.

मेरा सुझाव यह है कि आपको सिंगल निच ब्लॉग ही बनाना चाहिए, लेकिन अगर आप मल्टी निच ब्लॉग बनाना चाहते हैं तो शुरुवात में ब्लॉग को हमेशा सिंगल निच ही रखें, और जब एक निच में आपको रैंकिंग मिलने लगे तो फिर दूसरे निच के आर्टिकल ब्लॉग में कवर करें.

ब्लॉग बनाने से पहले आपको अपने उद्देश्यों को तय कर लेना चाहिए और उसी के अनुसार अपना ब्लॉग बनाना चाहिए.

सिंगल निच ब्लॉग के फायदे और नुकसान 

Single Niche Blog बनाने के बहुत सारे फायदे आपको मिलते हैं. और साथ में ही इसके कुछ नुकसान भी हैं पर इसके नुकसान को हम Ignore कर सकते हैं. क्योकि यह इतने अधिक भी नहीं है जो हमें एक सिंगल निच ब्लॉग बनाने से रोकें.

फायदे (Pros)

  1. आप एक अथॉरिटी वेबसाइट बना सकते हैं.
  2. सर्च इंजन रिजल्ट पेज में Single Niche Blog बेहतर Perform करते हैं, और जल्दी Rank करते हैं.
  3. इंटरनल लिंकिंग करने में आपको आसानी होती है.
  4. बैकलिंक आप आसानी से बना सकते हैं.
  5. आप खुद को एक Specialist के रूप में स्थापित कर सकते हैं.
  6. अनेक तरीकों के द्वारा अच्छी – खासी कमाई कर सकते हैं.
  7. लोगों का भरोसा जीत सकते हैं.
  8. लोगों की अच्छे से मदद कर सकते हैं.
  9. आपके ब्लॉग पर आने वाला ट्रैफिक Quality वाला होगा.

नुकसान (Cons)

  1. Content Research करने में समय लगता है.
  2. ट्रैफिक कम होता है.
  3. गूगल एड्सेंस से कमाई कम होती है.

यह लेख भी पढ़ें –

आपने क्या सीखा: Single Niche vs Multi Niche

इस लेख के माध्यम से हमने आपको Single Niche vs Multi Niche Blog in Hindi के बारे में पूरी जानकारी दी जिसे पढने के बाद आप समझ गए होंगे कि क्यों सिंगल निच ब्लॉग क्यों मल्टी निच ब्लॉग की तुलना में बेहतर है. अब आप जब भी अपना ब्लॉग बनाओ तो हमेशा सिंगल निच ब्लॉग ही बनाना क्योकि इसमें आपको भविष्य में बहुत फायदे मिलेंगे.

उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख जरुर पसंद आया होगा. इस लेख को अधिक से अधिक शेयर करें ताकि अन्य लोगों को भी मदद मिल सकें.

लेख को अंत तक पढने के लिए धन्यवाद||

2Shares

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||

4 thoughts on “Single Niche vs Multi Niche Blog: किसमें है ज्यादा कमाई?”

  1. Hello Sir Mai chhattisgarh me rhta hu aur mera Blog hai Iamchhattisgarh.in mai single niche me hi tika hu , lekin yaha ke log internet kam use krte hai isliye traffic bhi kam hai .. mai soch rha hu ki isi par dusre rajya ke g.k bhi dalna start kr du apka kya ray hai .

    Reply
    • है Sir आप कर सकते हैं. क्योंकि जिन ब्लॉग के Earning का प्राइमरी सोर्स गूगल एडसेंस है उन्हें ज्यादा ट्रैफिक पर फोकस करना चाहिए.

      Reply

Leave a Comment