15 + Blogging Mistake in Hindi: जिससे हर ब्लॉगर को बचना चाहिए

आज का यह आर्टिकल एक नए ब्लॉगर के लिए बहुत महत्वपूर्ण होने वाला है, क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको Common Blogging Mistake in Hindi के बारे में बताने वाले हैं जिनसे एक Begineer ब्लॉगर को बचना चाहिए.

ब्लॉग्गिंग आज के समय में ऑनलाइन घर बैठे पैसे कमाने का सबसे फेमस माध्यम बन चुका है, अनेक सारे ब्लॉगर घर बैठे लाखों रूपये महीने की कमाई कर रहे हैं. यदि आप भी ब्लॉग्गिंग करना चाहते हैं और जल्दी एक सफल ब्लॉगर बनाना चाहते हैं तो इस लेख में बतायी गयी ब्लॉग्गिंग गलतियों से आपको बचना चाहिए.

इस आर्टिकल में हम आपके साथ अपने अनुभवों के आधार पर ब्लॉग्गिंग में एक नए ब्लॉगर के द्वारा होने वाली कुछ ऐसी गलतियों के बारे में बतायेंगें जिन्हें अगर आप आज से ही Avoid करते हैं तो आप काफी कम समय में ब्लॉग्गिंग से अच्छा पैसा कमा सकते हैं.

तो चलिए आपका अधिक समय ना लेते हुए शुरू करते हैं आज का यह आर्टिकल.

ब्लॉग्गिंग की कुछ गलतियाँ (Blogging Mistake in Hindi)

इन्टरनेट पर आपको बहुत सारी ऐसी Blogging Mistake मिल जायेंगीं जिन्हें कि Popular ब्लॉगर अपने अनुभवों के आधार पर आपको अवॉयड करने की सलाह देते हैं. उसी प्रकार से हमने भी अपने अनुभवों के आधार पर 15 ऐसी ब्लॉग्गिंग गलतियों के बारे में आपको बताया है जिन्हें करने से अगर आप बचते हैं तो कम समय में ब्लॉग्गिंग से अच्छी कमाई कर पायेंगें.

तो यह रही सभी 15 ब्लॉग्गिंग गलतियाँ जो एक Beginner Blogger को अवॉयड करनी चाहिए.

#1. गलत Niche का चुनाव करना

किसी भी नए ब्लॉगर की सबसे बड़ी गलती होती है कि वह अपने ब्लॉग के लिए गलत Niche यानि गलत विषय या टॉपिक का चुनाव कर लेते हैं.

दरसल अधिकतर नए ब्लॉगर किसी अन्य ब्लॉगर के ब्लॉग को देखते हुए ऐसी Niche का चुनाव करते हैं जिसके बारे में उन्हें ज्यादा इनफार्मेशन नहीं होती है, और ना ही उन्हें उस विषय में interest होता है.

ऐसे विषय पर वे कुछ समय के लिए ब्लॉग तो लिख लेते हैं लेकिन उस विषय पर लंबे समय तक वे ब्लॉग को नहीं चला पाते हैं, और बीच में ही Blogging छोड़ देते हैं, फिर उन्हें लगता है कि ब्लॉग्गिंग में कोई करियर नहीं है.

उदाहरण के तौर पर माना आप दूसरों को देखकर Fitness पर ब्लॉग बना लेते हैं, लेकिन आपको Fitness के विषय में अधिक नॉलेज नहीं है और ना ही आपको Fitness में Interest है तो आप लंबे समय पर Fitness ब्लॉग पर काम नहीं कर पायेंगें. इसलिए ब्लॉग शुरू करने के लिए एक सही Niche का चुनाव करना बेहद जरुरी हैं.

आपको हमेशा ऐसे Niche पर ब्लॉग शुरू करना चाहिए जिसमें आपको Interest भी हैं और आप उस विषय के बारे में सीखना पसंद करते हैं.

#2. निवेश करने से डरना

निवेश करने से डरना एक बहुत बड़ी Blogging Mistake है. एक नया ब्लॉगर तब तक Blogging में इन्वेस्टमेंट करने के बारे में विचार नहीं करता है जब तक वह ब्लॉग से कुछ पैसे नहीं कमा लेता है, लेकिन यह उनकी एक बहुत बड़ी गलती होती है.

यहाँ पर आपको कोई plot लेने के लिए 20 – 30 लाख रूपये इन्वेस्ट नहीं करने पड़ते हैं, आप 3 से 4 रूपये निवेश करके प्रोफेशनल ब्लॉग बनाकर अपने Blogging Career की शुरुवात कर सकते हैं.

दरसल Blog बनाने के दो सबसे लोकप्रिय प्लेटफ़ॉर्म है Blogger.com और WordPress. Blogger.com पर आप बिल्कुल फ्री में अपना ब्लॉग बना सकते हैं, लेकिन WordPress Blog बनाने के लिए आपको डोमेन नाम और होस्टिंग खरीदना पड़ता है.

लगभग सभी ब्लॉगर Blogger.com से शुरुवात करते हैं, और कई ब्लॉगर तो लंबे समय तक Blogger.com पर ही रहते हैं. लेकिन यदि आप अपना इतना ही समय वर्डप्रेस ब्लॉग पर देंगें तो आप Blogger.com की तुलना में ज्यादा कमाई कर सकते हैं, क्योंकि वर्डप्रेस में बहुत ही एडवांस प्लगइन और थीम मिल जाते हैं जो आपकी ब्लॉग्गिंग journey को आसान बना देते हैं.

इसलिए इन्टरनेट पर मौजूद सभी बड़े ब्लॉगर आपको वर्डप्रेस पर ब्लॉग बनाने की सलाह देते हैं. आप मात्र 3 से 4 हजार में Hostinger से होस्टिंग खरीदकर अपना ब्लॉग शुरू कर सकते हैं, इसमें आपको एक साल के लिए टॉप लेवल डोमेन नाम भी फ्री में मिल जाता है. Hostinger में एक्स्ट्रा डिस्काउंट पाने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके होस्टिंग खरीद सकते है.

#3. जल्दी पैसा कमाने वाली स्कीम समझना

अधिकांश नए ब्लॉगर जल्दी पैसा कमाने के लिए ही Blogging की शुरुवात करते हैं वे ब्लॉग को एक Get Rich Quick Scheme समझते हैं. और जब वह 5 – 6 महीनों में ब्लॉग्गिंग से पैसे नहीं कमा पाते हैं तो निराश होकर ब्लॉग्गिंग छोड़ देते हैं.

आपको बता दूँ ब्लॉग्गिंग एक Get Rich Quick Scheme नहीं है, इससे पैसे कमाने के लिए आपको कम से कम 1 से 2 साल नियमित रूप से सही दिशा में मेहनत करनी होगी तभी आप ब्लॉग्गिंग से पैसे कमा सकते हैं. यदि आपके पास धैर्य नहीं है तो ब्लॉग्गिंग आपके लिए नहीं बनी है.

#4. बिना प्लानिंग के आर्टिकल लिखना

ब्लॉग्गिंग में  अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए आपको पूरी प्लानिंग के साथ कंटेंट लिखना चाहिए. बहुत सारे हिंदी ब्लॉगर अपने ब्लॉग में कुछ भी आर्टिकल पब्लिश कर देते हैं, एक सफल ब्लॉगर बनने के लिए आपको इससे बचना चाहिए.

जितने भी सफल ब्लॉगर होते हैं वह पूरी प्लानिंग के साथ कंटेंट अपने ब्लॉग में पब्लिश करते हैं. आप ब्लॉग बनाते समय यह भी निर्धारित कर लीजिये कि आप किस – किस केटेगरी के आर्टिकल अपने ब्लॉग में पब्लिश करेंगें और फिर उन्हीं केटेगरी पर आर्टिकल पब्लिश करें. आपको कोशिस करनी चाहिए कि अपनी Niche से related आर्टिकल ही ब्लॉग में पब्लिश करें.

इससे आपके ब्लॉग पर quality traffic होगा, और लोग आपको उस विषय पर एक्सपर्ट के रूप में देखेंगें तथा वे आपके हर एक नए आर्टिकल को पढेंगें. इसलिए Blogging में Loyal ऑडियंस बनाने के लिए आपको कंटेंट लिखने के लिए पूरी प्लानिंग करनी चाहिए.

#5. बिना कीवर्ड रिसर्च के आर्टिकल लिखना

Blogging में कीवर्ड रिसर्च करना बहुत ही अधिक महत्वपूर्ण है. यदि आप सही कीवर्ड रिसर्च करते हैं तो आपका 50 प्रतिशत काम यहीं पर हो जाता है. कीवर्ड रिसर्च के द्वारा आपको पता चलता है कि जिस टॉपिक पर आप आर्टिकल लिख रहे हैं उसके बारे में लोग इन्टरनेट पर खोज रहे हैं या नहीं, और उस टॉपिक में Competition कितना है.

यदि आप ऐसे कीवर्ड पर आर्टिकल लिखते हैं जिसके बारे में इन्टरनेट पर कोई सर्च ही नहीं करता है तो ऐसे कीवर्ड पर आर्टिकल लिखने से आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक नहीं आयेगा चाहे आपका आर्टिकल पहले नंबर पर ही रैंक कर रहा है.

इसी प्रकार यदि आप ऐसे कीवर्ड पर आर्टिकल लिखते हैं जिस कीवर्ड पर पहले से ही हजारों ब्लॉग ने आर्टिकल लिखा है तो ऐसे कीवर्ड में अपना आर्टिकल रैंक करवाने में आपको काफी समय लग जायेगा. इसलिए ब्लॉग्गिंग में कीवर्ड रिसर्च करना बहुत जरुरी है.

शुरुवात में आप कीवर्ड रिसर्च करके ऐसे कीवर्ड find करें  जिनमें Low Competition है और उसमें Search Volume भी ठीक ठाक है. इन्टरनेट पर आपको ढेर सारे फ्री कीवर्ड रिसर्च टूल मिल जायेंगें जिनकी मदद से आप एक बेस्ट कीवर्ड find कर सकते हैं.

#6. ब्लॉग का SEO ना करना

SEO यानि Search Engine Optimization एक ऐसी प्रोसेस है जिसके द्वारा आप अपने ब्लॉग पोस्ट को गूगल सर्च इंजन में रैंक करवा सकते हैं. बिना SEO के एक आर्टिकल को गूगल में रैंक करवाना काफी मुश्किल काम है लगभग असंभव के बराबर.

SEO एक ऐसी प्रोसेस होती है जिसके द्वारा आप अपने ब्लॉग पोस्ट को इस प्रकार से ऑप्टिमाइज़ करते हैं कि वह आर्टिकल उस Particular Query पर गूगल सर्च इंजन के टॉप पोजीशन में रैंक करें, तभी ब्लॉग पर ट्रैफिक आता है.

जैसे कि आप “कंप्यूटर क्या है” कीवर्ड पर आर्टिकल लिख रहे हैं तो आपको आर्टिकल को इस प्रकार से ऑप्टिमाइज़ करना होगा जिससे कि अगर कोई यूजर गूगल पर “कंप्यूटर क्या है” लिखकर सर्च करेगा तो आपका आर्टिकल उसे दिखना चाहिए.

एक Beginner Blogger को SEO के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होती है जिसके कारण वह बिना SEO किये ही आर्टिकल पब्लिश करता है. लेकिन ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने के लिए आपको SEO सीखना पड़ेगा. आप हमारे ब्लॉग के SEO केटेगरी के लेख को पढ़कर SEO सीख सकते हैं.

ब्लॉग का बेसिक SEO करने के लिए आप ब्लॉग में कीवर्ड प्लेसमेंट अच्छे से करें, इमेज को SEO फ्रेंडली बनायें, SEO Friendly URL बनायें.

#7. आर्टिकल कॉपी  पेस्ट करके लिखना

अधिकांश नए ब्लॉगर दुसरे ब्लॉग से आर्टिकल को कॉपी करके अपने ब्लॉग में पेस्ट कर देते हैं, जिसके कारण उन्हें Blogging में काफी Problem आती है, जैसे AdSense Approval ना मिलना, ब्लॉग पर ट्रैफिक ना आना आदि.

अक्सर यह गलती हर एक Beginner ब्लॉगर करता है. मेरे अनुसार यह सबसे बड़ी Blogging Mistake है, क्योंकि मैंने भी अपने ब्लॉग्गिंग करियर के शुरुवाती दिनों में यही गलती की थी. जिसका खामियाजा मुझे भुगतना पड़ा था.

यदि आप एक सफल ब्लॉगर बनाना चाहते हैं तो आपको कभी भी Copy/Paste करके आर्टिकल नहीं लिखना चाहिए, हमेशा खुद से ही रिसर्च करके यूनिक आर्टिकल लिखना चाहिए.

Blogging का वास्तविक मतलब यही होता है कि आप अपने नॉलेज, अनुभवों या विचारों को दुनिया तक पहुंचायें ना कि किसी अन्य ब्लॉग से कॉपी / पेस्ट करके आर्टिकल लिखें. इसलिए अगर आप एक सफल ब्लॉगर बनाना चाहते हैं तो आपको खुद से ही यूनिक आर्टिकल लिखना आना चाहिए.

#8. कम्पलीट आर्टिकल ना लिखना

Blogging में सफल होने और अपनी अलग पहचान बनाने के लिए ब्लॉगर को कम्पलीट आर्टिकल लिखना चाहिए. आपका आर्टिकल लिखने का प्राथमिक उद्देश्य होना चाहिए कि पाठक को अपने सभी सवालों का संतोषपूर्ण जवाब मिल सके और उसे Same इनफार्मेशन के लिए किसी अन्य ब्लॉग पर जाने की जरुरत ना पड़ें.

आप जिस भी टॉपिक पर आर्टिकल लिख रहे हैं उसके Around जितने भी question यूजर इन्टरनेट पर सर्च करते हैं उन सभी को अपने आर्टिकल में add करे, इससे आपका आर्टिकल कई सारे कीवर्ड पर रैंक करेगा और आपके ब्लॉग पर अच्छा ट्रैफिक आयेगा.

#9. ब्लॉग को ज्यादा चमक – धमक बनाना

नए ब्लॉगर अपने ब्लॉग को आकर्षक दिखाने के लिए Heavey Theme का इस्तेमाल करते हैं, बहुत सारे Widget लगाते हैं, CSS का इस्तेमाल करते हैं, इससे वेबसाइट की स्पीड बहुत धीमी हो जाती है.

आज के समय में ब्लॉग की रैंकिंग के लिए Speed एक important factor है. यदि आपकी वेबसाइट लोड होने में अधिक समय लेती है तो वेबसाइट की रैंकिंग डाउन हो जाती है.

इसलिए आपको इन सब चमक – धकम से बचना चाहिए और ब्लॉग का Look Simple रखना चाहिए. इन्टरनेट पर आपको जितने भी Popular ब्लॉग मिलेंगें उन सभी का डिजाईन बहुत Simple मिलेगा.

#10. Consistent होकर Blogging ना करना

Consistency की कमी भी ब्लॉग्गिंग में एक बहुत बड़ी गलती है. अगर आप Consistent होकर अपने ब्लॉग पर काम नहीं करते हैं तो आपको ब्लॉग्गिंग के करियर में सफलता मिलने की संभावना बहुत कम हो जाती है.

कई सारे ब्लॉगर सोचते हैं कि मैं 100 – 200 पोस्ट ब्लॉग पर लिखूंगा तो मुझे ब्लॉग्गिंग में सफलता मिल जायेगी, लेकिनी ऐसा बिल्कुल नहीं होता है. आपको नियमित रूप से अपने ब्लॉग पर काम करना होगा, हमेशा नए – नए आर्टिकल ब्लॉग में पब्लिश करने होंगें.

यदि आपके काम में निरंतरता की कमी रहेगी तो आपकी रैंकिंग डाउन हो जायेगी और ब्लॉग पर ट्रैफिक बहुत कम हो जायेगा. इसलिए आप Regular ब्लॉग पर काम करें.

आप अपना एक Schedule बना लीजिये, जैसे कि आपने हर हफ्ते ब्लॉग में तीन आर्टिकल पब्लिश करने का Schedule बनाया है तो आप नियमित रूप से हर हफ्ते 3 आर्टिकल अपने ब्लॉग में जरुर पब्लिश करें.

ऐसा बिल्कुल ना करें कि आपने एक हफ्ते में तो 10 आर्टिकल पब्लिश कर दिए हैं लेकिन उसके बाद 1 महीने तक ब्लॉग पर काम नहीं किया. कहने का मतलब है आपको Regular Basis पर Consistent होकर ब्लॉग पर काम करना चाहिए.

#11. मोनेटाइज के लिए एक ही सोर्स पर निर्भर रहना

दरसल अधिकतर ब्लॉगर Blogging से कमाई के लिए केवल एक ही सोर्स पर निर्भर रहते हैं वह है गूगल एडसेंस. बहुत सारे ब्लॉगर को गूगल एडसेंस का Approval नहीं मिल पाता है जिसके कारण वह हताश होकर ब्लॉग्गिंग छोड़ देते हैं.

आपको कभी भी ब्लॉग्गिंग से पैसे कमाने के लिए केवल गूगल एडसेंस पर निर्भर नहीं रहना चाहिए. हालाँकि गूगल एडसेंस एक भरोसेमंद एड् नेटवर्क है लेकिन इसके अलावा भी ब्लॉग से पैसे कमाने के अनेक सारे तरीके हैं जिनके माध्यम से आप एडसेंस से भी ज्यादा कमाई कर सकते हैं जैसे स्पोंसर, एफिलिएट मार्केटिंग आदि.

गूगल एडसेंस से अच्छी कमाई करने के लिए आपको बहुत अधिक मात्रा में ट्रैफिक की आवश्यकता होती है, लेकिन एफिलिएट मार्केटिंग या पेड प्रमोशन में आप लिमिटेड ट्रैफिक में भी अच्छी कमाई कर सकते हैं. इसलिए जब भी आप ब्लॉग शुरू करें तो केवल एडसेंस पर निर्भर ना रहें, आप ब्लॉग मोनेटाइज करने के लिए Multiple Monetize Source को साथ लेकर चलें.

#12. सीखने के लिए केवल YouTube Video पर निर्भर रहना

कई सारे Beginner Blogger ब्लॉग्गिंग सीखने के लिए केवल YouTube पर निर्भर रहते हैं, जिससे अधिकतर उन्हें गलत और आधी – अधूरी इनफार्मेशन मिलती है. अगर आप Blogging में एक्सपर्ट बनाना चाहते हैं तो आपको ब्लॉग पढने की आदत डालनी होगी, क्योंकि जितना अधिक आप ब्लॉग पढ़कर सीखेंगें उतना YouTube विडियो से नहीं सीख पायेंगें.

गूगल आपको वही आर्टिकल दिखाता है जिसमें आपके Query का सबसे सटीक जवाब होता है. लेकिन आपके लोकप्रिय YouTuber कई ऐसी विडियो भी बनाते हैं जिसमें उनका फोकस केवल अधिक View प्राप्त करना होता है चाहे व्यूअर को सही इनफार्मेशन ना मिले.

इसके अलावा कई सारे Serious और Expert Creator YouTube पर नहीं हैं, वे ब्लॉग के माध्यम से सही इनफार्मेशन पाठकों को देते हैं. सच कहूँ तो मैंने जितना आर्टिकल पढ़कर Blogging और SEO सीखा उसका 10 प्रतिशत भी YouTube से नहीं सीखा है. इसलिए आप Blogging सीखने के लिए YouTube विडियो देखने के साथ ब्लॉग भी पढ़ते रहें.

#13. काम में आलस दिखाना

Blogging में असफल होने का सबसे बड़े कारणों में से एक कारण ब्लॉगर का आलसपन भी है. Blogging करना और इससे पैसे कमाना मेहनत का काम है. आपको ब्लॉग में आर्टिकल पब्लिश करने होते हैं, पुराने पोस्ट को अपडेट करना होता है, ब्लॉग का SEO करना होता है, ब्लॉग में आ रही सभी कमियों को दूर करना होता है.

यदि आप थोडा भी आलस करेंगें तो आपके ब्लॉग से सम्बंधित काफी काम छूट जायेंगें, और आप अन्य ब्लॉगर से काफी पीछे रह जाओगे. अगर आप ब्लॉग्गिंग को लेकर सीरियस हैं तो आपको आलसपन को दूर करके अपने टाइम टेबल के अनुसार हर एक काम को करना पड़ेगा. आपका Hard Work ही आपको ब्लॉग्गिंग में सफलता दिलाता है.

कई सारे लोग यह भी कहते हैं कि ब्लॉग्गिंग बहुत आसान है जिसमें आपको ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती है. अगर ऐसा होता तो आज सभी ब्लॉगर होते और लाखों रूपये ब्लॉग से कमाते हैं. इसलिए आप इन सब बातों में ना आकर पूरी मेहनत के साथ ब्लॉग्गिंग करिए आपको जरुर सफलता मिलेगी.

#14. एक से अधिक ब्लॉग बना लेना

कई सारे ब्लॉगर शुरुवात में ही 4 – 5 ब्लॉग बना लेते हैं जिससे कि वे एक ब्लॉग पर ठीक से फोकस नहीं कर पाते हैं और Blogging में असफल हो जाते हैं.

अपने अनुभवों के अनुसार बात करूँ तो आपको शुरुवात में एक ही ब्लॉग पर अपना पूरा फोकस और effort देने चाहिए, और जब आपका वह ब्लॉग रैंक करने लगे और उससे आपको थोड़ी बहुत कमाई होने लगे तभी आपको अन्य ब्लॉग बनाने चाहिए. एक ब्लॉग में फोकस करने से आपके ब्लॉग्गिंग में सफल होने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है.

#15. ब्लॉग प्रमोशन ना करना

आपको जितना फोकस कंटेंट क्रिएशन में करना होता है उतना ही फोकस ब्लॉग प्रमोशन में भी करना पड़ता है. शुरुवात में आपके ब्लॉग के बारे में इन्टरनेट पर कोई भी यूजर नहीं जानता है, इन्टरनेट पर ब्लॉग की Awareness बढ़ाने के लिए ब्लॉग प्रमोशन बहुत महत्वपूर्ण होता है.

आप सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म जैसे फेसबुक, इन्स्टाग्राम, ट्विटर, Quora आदि जगह ब्लॉग प्रमोशन के द्वारा अधिक से अधिक लोगों को अपने ब्लॉग के बारे में बता सकते हैं.

यह तो रही कुछ Common ब्लॉग्गिंग मिस्टेक जो कि अधिकांश नए ब्लॉगर करते हैं. चलिए अब जानते हैं अगर आपसे कोई गलती हो गयी तो आप किस्से उसे सुधार सकते हैं.

Blogging गलतियों को कैसे सुधारें

चाहे आप दुनिया में किसी भी काम को कर लो उसमें आपसे कुछ ना कुछ गलती जरुर हो जाती है, और गलती करना इंसान का स्वभाव है. मनोविज्ञान के अनुसार इंसान सबसे ज्यादा अपनी गलतियों से ही सीखता है, इसलिए आप गलती होने के डर से ब्लॉग्गिंग से दूर ना भागें.

ब्लॉग्गिंग में होने वाली गलतियों को सुधारने के लिए पहले आप देखें कि आप कहाँ पर गलती कर रहे हैं, और अगली बार फिर उस गलती को दोहराने से बचें.

आप जितना कुछ भी सीखते हैं उसे एक डायरी में नोट करें, और उसे अपने ब्लॉग में implement करें. गलतियों को सुधारने के लिए आपको लगातार सीखते रहने की भी आवश्यकता है.

यह भी पढ़ें –

अंतिम शब्द,

तो दोस्तों यह कुछ Blogging Mistake in Hindi थी जिनको आपको Avoid करना चाहिए. अगर आप ब्लॉग्गिंग में इन Common गलतियों को करने से बचते हैं और उन्हें सुधारने के लिए प्रयास करते है तो आपको ब्लॉग्गिंग में सफल होने से कोई रोक नहीं सकता.

उम्मीद करते हैं दोस्तों यह आर्टिकल आपके लिए हेल्पफुल रहा होगा, और इससे आपको काफी कुछ सीखने को मिला होगा. आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर भी शेयर करें और ऐसे ही उपयोगी आर्टिकल पढने के लिए हमारे ब्लॉग को विजिट करें.

लेख को अंत तक पढने के लिए धन्यवाद||

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||

Leave a Comment