What is Content in Hindi – Content क्या होता है

What is Content in Hindi : – Technology की इस दुनिया में शायद ही कोई ऐसा इंसान होगा जिसने कंटेंट के बारे में नहीं सुना होगा. पर क्या आप जानते हैं Content क्या होता है? कंटेंट कितने प्रकार का होता है ? कंटेंट राइटिंग क्या होती है? एक बेहतर कंटेंट राइटर कैसे बने? और कंटेंट राइटिंग में कहाँ जॉब पा सकते हैं?

अगर आप इन सब सवालों का जवाब जानना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा पढ़िए. इसे पढ़ने के बाद आपको कंटेंट की अच्छी समझ हो जाएगी, और आप भी एक अच्छा कंटेंट लिखना सीख जाओगे. तो आइये बिना देरी के शुरू करते हैं इस लेख को –

कंटेंट क्या होता है ( What is Content in Hindi )

सबसे पहला सवाल यह आता है कि यह कंटेंट आखिर होता क्या है, हम किसे कंटेंट कहंगे? कंटेंट को साधारण रूप में इस प्रकार परिभाषित कर सकते हैं –

कंटेंट का हिंदी में मतलब होता है सामग्री . किसी भी माध्यम से जानकारी प्राप्त करने के रूप ( चाहे वह लिखित हो, ऑडियो हो या फिर विडियो हो ) को हम कंटेंट कहते हैं.

यह तो कंटेंट की एक साधारण सी परिभाषा थी, इस परिभाषा को विस्तृत करें तो जानकारी शिक्षा से सम्बंधित हो सकती है, या करियर से या मनोरंजन से या स्वास्थ से किसी से भी सम्बंधित हो सकती है.

माध्यम होते हैं अख़बार, टीवी, यूट्यूब, रेडियो, किताबें आदि सभी कंटेट प्रदान करने के माध्यम हैं. और इस कंटेंट को हम लिखित , विडियो या ऑडियो के रूप में प्राप्त करते हैं.

आप अख़बार पढ़ रहे हैं वह भी एक कंटेंट है, आप रेडियो सुन रहे हैं वह भी कंटेंट है, आप टीवी में कोई सीरियल या फिल्म देखते हैं, यूट्यूब पर विडियो देखते हैं, इन्टरनेट पर ब्लॉग पढ़ते हैं यह सब कंटेंट होता है.

यह भी पढ़ें –

कंटेंट के प्रकार ( Type of Content in Hindi )

कंटेंट मुख्यतः चार प्रकार के होते हैं –

1 – लिखित रूप में ( Text Content )

जो कंटेंट Text के format में होता है , या जिस कंटेंट को हम पढ़ते हैं उसे Text Content कहते हैं. जैसे – अख़बार पढना , किताबें पढना , इन्टरनेट पर ब्लॉग पढना आदि.

2 – ऑडियो के रूप में ( Audio Content )

जिस कंटेंट को हम सुनते हैं उसे ऑडियो कंटेंट कहते हैं. जैसे – रेडियो सुनना , FM, Podcast आदि ऑडियो कंटेंट के उदहारण हैं.

3 – विडियो के रूप में ( Video Content )

वह कंटेंट जो हम विडियो के रूप में देखते हैं उसे विडियो कंटेंट कहते हैं. जैसे – यूट्यूब पर विडियो देखना, टीवी में कोई सीरियल देखना आदि सभी माध्यम विडियो कंटेंट के उदाहरण हैं.

4 – चित्र के रूप में ( Image Content )

जिस कंटेंट को हम Image के रूप में देखते हैं उसे Image Content कहते हैं. जैसे कि इन्टरनेट पर ऐसी बहुत से image वायरल होती हैं जो बहुत कुछ कह जाती हैं यह Image Content का उदाहरण हैं.
 

कंटेंट राइटिंग क्या होती है ( What is Content Writing in Hindi )

अब तक आप समझ गए होंगे कि  What is Content in Hindi अब जानते हैं content writing क्या होती है और एक बेहतर कंटेंट राइटर कैसे बने.

जब भी लिखित रूप में कोई कंटेंट बनाते हैं तो उसे content writing कहते हैं. और जो इन लिखित कंटेंट को बनाता है या लिखता है उसे कंटेंट राइटर कहते हैं.

यह भी पढ़ें –

कंटेंट राइटर कैसे बने 

कंटेंट राइटर बनना राकेट साइंस जितना मुश्किल तो नहीं पर हाँ यह इतना आसान भी नहीं हैं. अगर आप एक बेहतर कंटेंट राइटर बनना चाहते हैं तो कुछ बातों को ध्यान में रखना जरुरी है. आइये जानते हैं क्या हैं वो बातें –

Content Writer kaise bane

1 – भाषा का बेहतर ज्ञान 

सर्वप्रथम आप जिस भाषा में कंटेंट लिखना चाहते हैं आपको उस भाषा का अच्छा ज्ञान होना बहुत जरुरी है. अगर आप English में लिखना चाहते हैं तो आपकी English अच्छी होनी चाहिए और यदि हिंदी भाषा में लिखना चाहते हैं तो आपको हिंदी का अच्छा ज्ञान होना जरुरी है.

2 – विषय का ज्ञान 

आप जिस भी टॉपिक पर कंटेंट लिख रहे हो उस टॉपिक का आपको अच्छा ज्ञान होना बहुत जरुरी है. अगर आप गलत इनफार्मेशन देते हैं तो आपके पाठकों का आप से भरोसा उठ जायेगा.

अगर आपको अपने विषय का ज्ञान नहीं है तो आप इन्टरनेट से रिसर्च करके उस विषय के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हो. एक सटीक इनफार्मेशन देने से पाठकों का आप पर भरोसा बनेगा और वह आपके कंटेंट को पसंद करेंगे.

3 – लिखने की शैली 

बहुत से लोगों को अपने विषय का अच्छा ज्ञान होता है, लेकिन तब भी वह एक बेहतर कंटेंट नहीं लिख पाते हैं. क्योकि उनको लिखने की शैली के बारे में ठीक से पता नहीं होता है.

जब भी कोई कंटेंट लिखे तो उसे क्रम के अनुसार लिखें, अगर आप क्रम अनुसार कंटेंट नहीं लिखते हैं तो पाठक को पढ़ने में मजा नहीं आएगा फिर चाहे आपने जानकारी सटीक ही क्यों न लिखा हो. इसलिए हमेशा कोशिस करें कंटेंट लिखने से पहले एक क्रम बना लें और उसी क्रम के अनुसार अपना कंटेंट लिखें.

4 – पाठकों को जरुरत के अनुसार लिखें 

कंटेंट लिखते समय सबसे महत्वपूर्ण बात यह आती है कि आपको अपने कंटेंट को पाठकों की जरुरत के अनुसार लिखना चाहिए. अपने कंटेंट में अपने विषय से सम्बंधित उन सारे प्रश्नों का जवाब लिखना चाहिए जो एक पाठक के मन में आ सकते हैं. एक कंटेंट लिखते समय हमेशा यह कोशिस करनी चाहिए कि हमारे कंटेंट को पढ़ने वाला हर एक पाठक को अपने सवालों का संतोषपूर्ण जवाब मिलें.

5 – आसान शब्दों का प्रयोग करें 

कुछ शब्द ऐसे भी होते हैं जो शब्द समझ में नहीं आते हैं, ऐसे शब्दों का प्रयोग करने से भी बचें. कंटेंट में हमेशा आसान शब्दों का प्रयोग होना चाहिए जो सबके समझ में आ जाये. कंटेंट लिखते समय हमेशा कोशिस करें जितने आसान शब्दों में आप लोगों तक अपनी जानकारी पंहुचा सकते हैं वह आपके लिए उतना ही बेहतर होगा.

6 – कंटेंट पब्लिश करने से पहले खुद पढ़ें 

जब कंटेंट को पूरा लिख लेते हैं तो हमें एक बार पुरे कंटेंट को खुद पढना चाहिए. कंटेंट को पढ़ते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि कंटेंट को पाठक के नजरिये से पढ़ें. ऐसा करने से आपको कंटेंट में जो भी गलती है उसका पता आसानी से लग जाता है.

इन 6 तरीकों को अपनाकर आप एक बेहतर कंटेंट राइटर बन सकते हो. आपको निरंतर लिखने और पढने का अभ्यास भी करते रहना चाहिए जिसकी मदद से आप कंटेंट राइटिंग की बारीकियों को समझ सको.

यह भी पढ़ें –

Content Writing Job Option 

आज के समय में एक बेहतर कंटेंट राइटर की कीमत बहुत अधिक है. कंटेंट राइटर के लिए बहुत से जॉब option होते हैं , जिनमे से कुछ महत्वपूर्ण निम्न्वत हैं –

1 – खुद की वेबसाइट बनाकर 

अगर आपके अन्दर लिखने की कला है तो आप खुद की एक वेबसाइट बना सकते हो और उसमे कंटेंट लिख सकते हो , एक वेबसाइट से आपको अच्छी कमाई हो जाती है.

2 – Freelancer बनकर 

आप Freelancer बनकर भी Content Writing करके पैसे कमा सकते हैं. आजकल इन्टरनेट पर बहुत सारे ऐसे platform हैं जहाँ पर आप कंटेंट राइटिंग का काम पा सकते हो.

इन वेबसाइट में आपको बहुत से लोग मिल जायेंगे जिनको कंटेंट राइटर की जरुरत होती है, यहाँ पर भी आप काम करके अच्छे पैसे कमा सकते हो. यहाँ पर आपको per word के हिसाब से पेमेंट की जाती है.

कुछ Popular Freelancing Website मैंने आपको Suggest की है जहाँ पर आप Account बनाकर काम Find कर सकते हो –

3 – न्यूज़ चैनल में 

न्यूज़ चैनल को सबसे ज्यादा जरुरत होती है कंटेंट राइटर की. दरसल उन्हें एक दिन में बहुत सारी न्यूज़ पब्लिश करनी होती है जिसके लिए उन्हें कंटेंट राइटर की जरुरत होती है. आप किसी न्यूज़ चैनल में कंटेंट राइटर पद के लिए आवेसन करके आसानी से जॉब पा सकते हो अगर आपके अन्दर content writing की कला हो तो.

4 – किसी और की वेबसाइट के लिए कंटेंट लिखकर 

इन्टरनेट की इस दुनिया में सभी लोग ऑनलाइन कमाना चाहते हैं. ऐसे में बहुत सारे वेबसाइट को ओनर होते हैं जिनके पास कंटेंट लिखने का समय नहीं होता है ऐसे में उन्हें कंटेंट राइटर की जरुरत पड़ती है.

आप किसी कंटेंट राइटिंग से सम्बंधित फेसबुक ग्रुप या किसी forum साईट से जुड़ सकते हो जहाँ पर आपको बहुत सारे वेबसाइट के ओनर मिल जायेंगे जिन्हें अपने ब्लॉग के लिए कंटेंट राइटर की जरुरत होती है.

आपको उन्हें अपना Sample दिखाना पड़ता है और अगर उन्हें आपका लिखा पसंद आता है तो वे आपको लम्बे समय तक काम देते रहते हैं. अपनी बात करू तो मुझे अधिकतर Clint Facebook Group से ही मिले जो मुझे लगातार काम देते रहे.

मैं अभी भी Content Writing का काम करता हूँ और साथ में अपने 3 Blog को Manage भी करता हूँ.

Content Writer Salary in India 

कंटेंट राइटिंग की जॉब से आप शुरुवात में 10 से 15 हजार महीने कमा सकते हो. अगर आप एक बेहतर कंटेंट राइटर हो तो एक आर्टिकल लिखने का बहुत अच्छा पैसा कमा सकते हो.

अगर freelancer की बात करू तो हिंदी कंटेंट राइटर को English कंटेंट राइटर की तुलना में बहुत कम पैसे मिलते हैं. मैंने freelancer पर 5 – 6 महीने ही काम किया पर मुझे ज्यादा प्रोजेक्ट नहीं मिल पाए. और जो Project मिले भी उनमें बहुत कम PPW मिलते थे. फिर मैंने Blog Owner से Contact करके, FB Group Join करके Clint ढूंढे.

लेखन की भाषा हिंदी होने के कारण एक 1000 शब्दों के लेख पर 200  से 300 रूपये ही मिल पाते हैं लेकिन अगर आप एक दिन में 5 Article भी लिख दो तो 1000 रूपये प्रतिदिन कमा सकते हो.

और अगर खुद के Blog के लिए लिखते हो तो जब आपके Blog में traffic आने लगेगा आप अपने Blog से बहुत अच्छी कमाई कर सकते हो.

यह भी पढ़ें –

Professional Content Writer कैसे बने ?

अगर आप कंटेंट राइटिंग में अपना करियर बनाना चाहते तो आप मास कम्युनिकेशन की डिग्री ले सकते हो. इस कोर्स करने के बाद आप एक अच्छी कंटेंट राइटर की नौकरी पा सकते हो.

वैसे अपनी बात करू तो मैंने भी कोई कंटेंट राइटिंग का कोर्स नहीं किया है पर मैं अपने ब्लॉग में नियमित रूप से लिखता रहता हूँ और मैंने freelancer पर कुछ प्रोजेक्ट पर काम किया था , जिसके अनुभव से मैंने कंटेंट लिखना सीखा है. अगर आपके अन्दर सीखने की ललक है तो आप बिना किसी कोर्स के भी एक बेहतर कंटेंट राइटर बन सकते हो.

FAQ For Content Writing in Hindi

Q – क्वालिटी कंटेंट क्या होता है?

वह कंटेंट जिसमें कंटेंट प्राप्त करने वाले यूजर को अपने सवालों का संतोषपूर्ण जवाब मिले और कंटेंट पढने वाले सबसे कमजोर यूजर को भी कंटेंट समझ में आये वही क्वालिटी कंटेंट होता है.

Q – E-कंटेंट क्या होता है?

इन्टरनेट पर उपस्थित सभी प्रकार के कंटेंट को e-कंटेंट कहा जाता है आज के समय में यह सबसे ज्यादा Consume किया जाने वाला कंटेंट है.

Q – मैं कंटेंट राइटिंग कैसे कर सकता हूँ?

कंटेंट राइटिंग करने से पहले आपको कंटेंट राइटिंग के बारे में सीखना होगा, आप ब्लॉग, किताबें, अख़बार, मैगजीन आदि पढ़ें और समझने की कोशस करें कि किस प्रकार से कंटेंट को लिखा गया है. जब आपको कंटेंट राइटिंग का नॉलेज हो जाएगा फिर आप भी कंटेंट राइटिंग कर सकते हैं.

Q – कंटेंट राइटिंग करियर कैसे शुरू करें?

कंटेंट राइटिंग करियर आप निम्न तरीकों से शुरू कर सकते हैं –
ब्लॉग या वेबसाइट के लिए लिखकर, Freelancer कंटेंट राइटर बनकर, अख़बार या मैगजीन के लिए लिखकर

निष्कर्ष : Content in Hindi

आज के इस लेख में हमने What is Content in Hindi के बारे में चर्चा की और साथ ही Content Writing के बारे में अच्छे से समझा. इसे पढ़कर आप एक अच्छा कंटेंट क्या होता है इसके बारे में सीख गए होंगे.

उम्मीद करता हूँ आपको यह लेख पसंद आया होगा अगर किसी प्रकार की कोई त्रुटी रह गई तो माफ़ी चाहूँगा. इस लेख से अगर आपको कुछ सीखने को मिला तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर साझा करें. धन्यवाद ||

आगे पढ़ें –

1Shares

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||

Leave a Comment