Auto Blogging Kya Hai, कैसे करें और इसके फायदे, नुकसान

हेलो दोस्तों, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग Hindi Tech DR के एक और नए आर्टिकल में जिसमें हम जानेंगें Auto Blogging Kya Hai, Auto Blogging कैसे करें, Auto Blogging के फायदे और नुकसान क्या हैं.

वैसे तो हम आपको Auto Blogging करने की सलाह नहीं देते हैं, यह लेख हमने अपने पाठकों के अनुरोध पर लिखा है.

जो लोग ब्लॉग्गिंग करना चाहते हैं लेकिन उनके पास आर्टिकल लिखने का समय नहीं है उनके लिए Auto Blogging एक अच्छा विकल्प है. Auto Blogging में आपको कोई आर्टिकल लिखने की जरुरत नहीं पड़ती है, केवल आपको ऑटो ब्लॉग्गिंग का सेटअप कर देना पड़ता है और फिर आर्टिकल स्वचालित रूप से आपके ब्लॉग में पब्लिश होते जाते हैं.

Auto Blogging से लेकर लोगों के मन में अनेक सवाल रहते हैं जैसे कि इससे कमाई होगी या नहीं, क्या यह ब्लॉग सर्च इंजन में रैंक करेगा, क्या ऑटो ब्लॉग्गिंग लीगल है इत्यादि. इस आर्टिकल में हमने आपके इन सभी सवालों का जवाब भी दिया है.

इस आर्टिकल में आपको वह सब कुछ जानने को मिलेगा जो आपको Auto Blogging की शुरुवात करने से पहले पता होना चाहिए. तो चलिए दोस्तों बिना देरी के शुरू करते हैं आज का यह लेख.

Auto Blogging क्या है?

Auto Blogging एक AI आधारित सिस्टम है जिसमें ब्लॉग पोस्ट Automatic रूप से ब्लॉग पर पब्लिश होते हैं, इसमें ब्लॉगर को आर्टिकल लिखने की जरुरत नहीं पड़ती है. बस आपको Auto Blogging का सेटअप करना होता है उसके बाद पोस्ट आपके ब्लॉग पर स्वचालित रूप से पब्लिश होती रहती हैं.

Auto Blogging में ब्लॉगर दुसरे Popular ब्लॉग/ वेबसाइट के RSS Feed का उपयोग करके अपने ब्लॉग में पोस्ट पब्लिश करते हैं. इसमें जिस ब्लॉग के RSS Feed का उपयोग किया जाता है अगर उस ब्लॉग में कोई नयी पोस्ट पब्लिश होती है तो वह पोस्ट automatically आपके ब्लॉग में भी पब्लिश हो जायेगी.

Auto Blogging करने के लिए आपको Automatic Third party सॉफ्टवेयर या प्लगइन को सेटअप करना होता है. इसमें आपको आर्टिकल को Modify करने का भी ऑप्शन मिल जाता है, जिससे कि आर्टिकल यूनिक बन जाता है.

इसके साथ ही यह सॉफ्टवेयर जिस वेबसाइट का कंटेंट आपके ब्लॉग पर पब्लिश करते हैं उसका Credit भी automatically add कर देते हैं जिससे कॉपीराइट आने की संभावना कम हो जाती है. Auto Blogging में आपको आर्टिकल लिखने की झंझट नहीं होती है, इसमें आपको केवल ब्लॉग पर ट्रैफिक बढ़ाने के लिए SEO effort लगाने पड़ते हैं.  

Auto Blogging के लिए किन चीजों की जरुरत होती है?

Auto Blogging करने के लिए आपको निम्नलिखित चीजों की आवश्यकता होती है –

  • एक ब्लॉग, जिसे कि आप Blogger.com पर या फिर WordPress पर बना सकते हैं.
  • जिस ब्लॉग के पोस्ट आप अपने ब्लॉग में पब्लिश करना चाहते हैं उसका RSS Feed URL जो कि आपको गूगल में मिल जायेगा.

Auto Blogging कैसे करें?

Auto Blogging करने के लिए Automatic प्लगइन और सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल होता है, आपको केवल इसका सेटअप करना आना चाहिए. इस लेख में आगे हमने आपको Blogger और WordPress दोनों प्लेटफ़ॉर्म पर Auto Blogging सेटअप करने की प्रोसेस बताई है.

लेख में आगे बढ़ने से पहले आपको Auto Blogging करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखना है जैसे कि –

  • Auto Blogging के लिए आप नया AdSense Account बनाये, अपने मुख्य ब्लॉग के एडसेंस में उसे add ना करें.
  • अगर आप Blogger पर Auto Blogging कर रहे हैं तो एक Separate Mail ID बनायें और उस पर ब्लॉग बनायें. जिससे कि वह ID ब्लॉक होने पर आपके अन्य ब्लॉग पर इसका असर ना पड़ें.

चलिए अब जानते हैं Blogger और WordPress ब्लॉग पर Auto Blogging कैसे करें.

Blogger पर Auto Blogging कैसे करें?

Blogger पर Auto Blogging करने के लिए आप IFTTT वेबसाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए सबसे पहले आप Blogger.com पर ब्लॉग बना लीजिये, और फिर IFTTT वेबसाइट को ओपन करके इसमें अपनी Gmail ID से Sign Up कर लीजिये. आप फेसबुक, ईमेल या Apple अकाउंट से भी Sign Up कर सकते हैं.

यहाँ पर आपको पूछा जायेगा कि आप कहाँ पर Automation का सेटअप करना चाहते हैं, आपको Web को सेलेक्ट करके Continue पर क्लिक कर लीजिये. और फिर इसके बाद आप इसे अपने Blogger ब्लॉग के साथ कनेक्ट करके Auto Blogging कर सकते हैं.

नीचे मैंने आपको एक विडियो Suggest की है जिसमें आपको स्टेप वाइज बताया गया है कि Blogger.com पर Auto Blogging का सेटअप कैसे करें. मदद के लिए आप इस विडियो को देख सकते हैं.

Credit – Mr. Naved Shah

WordPress पर Auto Blogging कैसे करें?

WordPress पर Auto Blogging करने के लिए आपको डोमेन नाम और होस्टिंग खरीदकर अपन वर्डप्रेस ब्लॉग सेटअप कर लेना है. वर्डप्रेस ब्लॉग में Auto Blogging ब्लॉग्गिंग करना बहुत ही आसान है इसके लिए आपको जरुरत पड़ेगी Wp Automatic Plugin की जो कि एक प्रीमियम प्लगइन है, इसे आपको खरीदना पड़ेगा.

आप थोडा बहुत रिसर्च करके Wp Automatic Plugin के GPL (Generic Public License) वर्शन को डाउनलोड करके इसका इस्तेमाल कर सकते हैं.

सबसे पहले आपको अपने WordPress डैशबोर्ड में Login कर लेना है और फिर प्लगइन वाले सेक्शन में Upload Plugin पर क्लिक कर लेना है.

इसके बाद आपको अपने डिवाइस से Wp Automatic Plugin फाइल को सेलेक्ट करके अपलोड कर लेना है और उसे अपने वर्डप्रेस ब्लॉग में इनस्टॉल करके एक्टिव कर लेना है. प्लगइन सेटअप करने के बाद आपको इसमें New Campaign बनाना होता है.

अब आप जिस भी ब्लॉग के पोस्ट अपने ब्लॉग में पब्लिश करना चाहते हैं उसके RSS Feed का लिंक Wp Automatic Plugin में Paste कर देना है, और जो भी जरुरी Setting हैं उसे करके Publish Campaign पर क्लिक कर देना है. इसके बाद आपके ब्लॉग में Auto Blogging का सेटअप कम्पलीट हो जायेगा.

वर्डप्रेस ब्लॉग में Auto Blogging को सेट करने के लिए आप नीचे दी गयी विडियो को देख सकते हैं, इसमें आपको स्टेप वाइज जानकारी दी गयी है.

Credit – My Smart Support

आर्टिकल को यहाँ तक पढने पर आप समझ गए होंगें कि Auto Blogging Kya Hai, चलिए अब इसके फायदे और नुकसानों के बारे में भी जान लेते हैं.

Auto Blogging के फायदे

Auto Blogging करने के निम्नलिखित फायदे आपको मिलते हैं –

  • एक बार Auto Blogging का सेटअप करने के बाद आपको अपने ब्लॉग के लिए पोस्ट लिखने की जरुरत नहीं पड़ती है.
  • जिन लोगों के पास आर्टिकल लिखने का समय नहीं है उनके लिए Auto Blogging एक अच्छा विकल्प हो सकता है.
  • ब्लॉग पर रोजाना नए पोस्ट पब्लिश होते रहेंगें.
  • Auto Blogging से आप पैसे भी कमा सकते हैं.
  • आप ब्लॉग पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करके अच्छा ट्रैफिक प्राप्त कर सकते हैं.

Auto Blogging के नुकसान

Auto Blogging के फायदे की तुलना में नुकसान अधिक हैं, जिनके बारे में हमने आपको नीचे बताया है –

  • कॉपी कंटेंट होने के कारण गूगल आपके ब्लॉग को Penalize भी कर सकता है.
  • अगर आप Blogger.com पर ऑटो ब्लॉग्गिंग कर रहे हैं तो गूगल आपके ब्लॉग को परमानेंट के लिए Remove कर सकता है.
  • ब्लॉग पर हमेशा Copyright Claim का ख़तरा बना रहता है.
  • आपके ब्लॉग पोस्ट गूगल पर रैंक नहीं करते हैं जिसके कारण आपको Organic Traffic नहीं मिलेगा.
  • आमतौर पर ऑटो ब्लॉग्गिंग में AdSense Approval भी नहीं मिलता है, और अगर गलती से मिल भी गया तो जब भी आपका ब्लॉग गूगल की नज़रों में आयेगा तो आपका AdSense Disable हो सकता है.
  • कई सारे अन्य Ad network भी Auto Blogging को सपोर्ट नहीं करते हैं.
  • Reader और सर्च इंजन दोनों के नज़रों में आपके ब्लॉग की कोई Value नहीं रहेगी.
  • आप Auto Blogging करके ब्लॉग्गिंग में सफलता प्राप्त नहीं कर सकते हैं.
  • आप Auto Blogging केवल Short Time के लिए कर सकते हैं.
  • अगर आप पेशेवर ब्लॉगर हैं तो Auto Blogging करने से आपकी Reputation भी खराब हो सकती है.

इन सब नुकसानों के कारण हम आपको Auto Blogging करने की सलाह नहीं देते हैं.

क्या Auto Blogging करनी चाहिए?

वैसे तो हम आपको Auto Blogging  ना करने का सुझाव देते हैं, क्योंकि इससे आप ब्लॉग्गिंग में लंबे समय तक पैसे नहीं कमा सकते हैं. औई कई लोग तो 1 – 2 साल Auto Blogging करने के बाद भी एक रुपया नहीं कमा पाते हैं. हालाँकि आपको Auto Blogging करनी चाहिए या नहीं यह पूरी तरह से आपका निर्णय है.

अगर आप बहुत व्यस्त रहते हैं और आपके पास आर्टिकल लिखने का समय नहीं है लेकिन तो आप Auto Blogging कर सकते हैं. लेकिन आपको Auto Blogging से ज्यादा उम्मीद नहीं करनी चाहिए, क्योंकि कॉपी कंटेंट को गूगल सर्च इंजन में रैंक करवाना बहुत मुश्किल टास्क है.

Auto Blogging से सम्बंधित सामान्य प्रश्न

Q – क्या Auto Blogging लीगल है?

जी हाँ Auto Blogging लीगल है, कई सारे ब्लॉगर जिनके पास आर्टिकल लिखने का समय नहीं होता है वह भी ऑटो ब्लॉग्गिंग करते हैं. लेकिन गूगल के नजरिये से ऑटो ब्लॉग्गिंग लीगल नहीं है. इसमें गूगल कभी भी आपके ब्लॉग को Penalize कर सकता है.

Q – वर्डप्रेस में Auto Blogging करने के लिए बेस्ट प्लगइन कौन सा है?

वर्डप्रेस में Auto Blogging करने के लिए आप Wp Automatic Plugin का इस्तेमाल कर सकते हैं. यह एक प्रीमियम प्लगइन है जो ऑटो ब्लॉग्गिंग के लिए बेस्ट है.

Q – Blogger में Auto Blogging करने के लिए किस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें?

ब्लॉगर में आप IFTTT वेबसाइट की मदद से ऑटो ब्लॉग्गिंग कर सकते हैं.

Q – क्या Auto Blogging से ब्लॉग को रैंक करवा सकते हैं?

Auto Blogging करके ब्लॉग को रैंक करवाना बहुत मुश्किल टास्क है, क्योंकि गूगल कॉपी कंटेंट को कभी अच्छी रैंकिंग नहीं देता है.

यह लेख भी पढ़ें –

Conclusion: Auto Blogging Kya Hai

आज के इस आर्टिकल में हमने जाना कि Auto Blogging Kya Hai और Auto Blogging कैसे कर सकते हैं. इसके साथ ही हमने आपको Auto Blogging के फायदे और नुकसानों के बारे में भी जानकारी दी है जिससे कि आप यह निर्णय ले सकते हैं कि आपको Auto Blogging करनी चाहिए ना नहीं.

हमें पूरी उम्मीद है दोस्तों यह आर्टिकल आपको जरुर पसंद आया होगा, अगर अभी भी आपके मन में इस लेख से जुड़े कोई सवाल हैं तो हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं. अंतिम में आपसे निवेदन करेंगें कि इस लेख को अधिक से अधिक सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.

लेख को अंत तक पढने के लिए धन्यवाद||

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||

Leave a Comment