Domain Name Kya Hota Hai और यह कैसे काम करता है

स्वागत है दोस्तों आपका Hindi Tech DR ब्लॉग में. आपने कभी न कभी Domain नाम तो सुना ही होगा पर क्या आप जानते हैं कि Domain Name Kya Hota Hai ? यह कितने प्रकार के होते हैं ? और यह कैसे काम करता है ?

अगर आप ऊपर पूछे गए सभी सवालों का जवाब जानना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा पढ़िए. यदि आप एक Blogger हैं तो आपके लिए डोमेन के बारे में सब कुछ जानना जरुरी हो जाता है. डोमेन किसी भी वेबसाइट या ब्लॉग की नींव होती है, इसके बिना एक ब्लॉग बनाना असंभव है.

एक Blogger को डोमेन लेते समय कुछ बातों का ध्यान देना जरुरी है , उसके विषय में भी मैंने इस लेख में चर्चा की है. तो आइये शुरुवात करते हैं और डोमेन के बारे में जानते हैं.

Domain Name Kya Hota Hai 

जब भी हम Google या किसी भी Search Engine में कुछ भी सर्च करते हैं तो हमें बहुत सारी वेबसाइट देखने को मिलती है . और ये वेबसाइट कुछ इस प्रकार होती है www.example.com . जो ये example.com होता है यही Domain Name कहलाता है.

जैसे – Facebook.com , Google.com, Yahoo.com , Hinditechdr.com. यह सभी Domain हैं.

इस उदाहरण के द्वारा इसे समझते हैं, जिस प्रकार हम किसी बाजार में अपनी दूकान खोलते हैं तो उस दूकान का कुछ नाम जरुर रखते हैं. जैसे – XYZ जनरल स्टोर , ABC गारमेंट्स आदि.

तो इसी प्रकार इन्टरनेट की दुनिया में भी जब हम अपनी जानकारी साझा करना चाहते हैं , या अपना कोई प्रोडक्ट बेचना चाहते हैं तो उसके लिए हमें एक ब्लॉग या वेबसाइट की जरुरत होती है.

और हर किसी वेबसाइट का कुछ न कुछ नाम जरुर होता है. वेबसाइट या ब्लॉग का यही नाम डोमेन नाम कहलाता है. जिससे कोई भी यूजर  हमारे डोमेन नाम को सर्च करके वह आसानी से हमारी वेबसाइट तक पहुँच जाता है.

डोमेन नाम की परिभाषा ( Definition of Domain in Hindi )

डोमेन को Technical रूप में इस प्रकार से परिभाषित कर सकते हैं. ” इंटरनेट की दुनिया में  IP Address ( Internet Protocol ) के Against जो नाम होता है उसे डोमेन कहते है. ”

हर किसी वेबसाइट के पीछे एक IP ( Internet Protocol) Address जरुर होता है. यह IP एड्रेस नंबर ( जैसे – 136.96.84.252) के रूप में होता है. हम IP एड्रेस के माध्यम से पता कर सकते हैं कि कौन सी वेबसाइट इन्टरनेट में कहाँ पर है.

IP एड्रेस नंबर के रूप में होने के कारण हर कोई इंसान इसे आसानी से याद नहीं कर सकता है. इसी IP एड्रेस को आसान शब्दों में याद करने के लिए हम डोमेन नाम का प्रयोग करते हैं.

डोमेन हमारी ऑनलाइन पहचान होती है. एक बार जो डोमेन हम खरीदते है उस डोमेन को और कोई नहीं खरीद सकता. जैसे मेरी वेबसाइट का डोमेन नाम है hinditechdr.com. इस डोमेन नाम को अब कोई और खरीद नहीं सकता है. मतलब हर डोमेन नाम एक यूनिक नाम होता है. डोमेन नाम को प्रत्येक वर्ष Renew करवाना पड़ता है.

डोमेन कैसे काम करता है ( How Does Domain Work in Hindi )

अभी तक आप सीख गए है कि Domain Name Kya Hota Hai. अब बात करते हैं यह कैसे काम करता है.

हर एक वेबसाइट का डाटा किसी एक server में Store रहता है. जब हम अपने डोमेन को अपने server से connect करते हैं तो डोमेन नाम को हमारे server के IP से जोड़ दिया जाता है. अब कोई भी यूजर अपने ब्राउज़र में हमारे डोमेन नाम को सर्च करता है तो server में स्टोर डाटा उसे अपने ब्राउज़र में दिख जाता है.

यह भी पढ़ें –

डोमेन के प्रकार ( Type of Domain in Hindi )

डोमेन नाम दो शब्दों से मिलकर बना होता है. जैसे example.com एक डोमेन का नाम है. इसमें एक भाग डॉट से पहले (example ) का है. इस भाग को आप अपनी इच्छा के अनुसार कुछ भी रख सकते हैं.

और दूसरा हिस्सा डॉट के आगे का होता है. डोमेन नाम के इस भाग को आप अपनी इच्छा के अनुसार नहीं रख सकते हैं. यह डोमेन नाम का एक्सटेंसन कहलाता है. यह एक्सटेंसन पहले से ही फिक्स रहते हैं. और आप उनमें से कोई एक एक्सटेंसन चुन सकते हो.

इन्हीं एक्सटेंसन के आधार पर डोमेन को मुख्य 3 भागों में वर्गीक्रत किया गया है.

1 – Top Level Domain 

top level domain वे होते हैं जो पुरे world के लिए बने होते हैं. सर्च इंजन में अच्छी रैंकिंग के लिए इसे प्रयोग किया जाता है. क्योकि सर्च इंजन top level domain को अधिक महत्व देते हैं. कुछ top level domain  एक्सटेंसन निम्न हैं.

  • .com – Commercial Site
  • .net – Network
  • .org – Organization Site
  • .edu – Education Site
  • .gov – Government Site
  • .info – Information

2 – Country Code Top Level Domain

कुछ डोमेन नाम ऐसे भी होते हैं, जो किसी एक देश के लिए बने होते हैं. इनको हम Country Code Top Level Domain कहते हैं. इस प्रकार के डोमेन नाम के एक्सटेंसन में केवल दो शब्दों का प्रयोग किया जाता है. इनमे से कुछ निम्न हैं.

  • .in – India
  • .au – Australia
  • .cn – China
  • .us – United State
  • .uk – united Kingdom

3 – SUB – DOMAIN

सबडोमेन हमारे मेन डोमेन का एक छोटा सा भाग होता है. इसको खरीदने की कोई जरुरत नहीं पड़ती है Sub Domain को हम फ्री में बनाते हैं. Sub Domain का प्रयोग हम अपने  वेबसाइट में अलग – अलग केटेगरी के कंटेंट को मैनेज करने के लिए करते हैं. हम अपने Main Domain में से इसका एक पार्ट बना सकते हैं.

जैसे मेरा डोमेन है hinditechdr.com. मैं इस डोमेन से blog.hinditechdr.com भी बना सकता हूँ. या अगर मै English में कंटेंट लिखता हूँ तो English.hinditechdr.com भी बना सकता हूँ. यही हमारा Sub Domain नाम है. या जब आप Blogger.com पर ब्लॉग बनाते हो तो आपको एक सब डोमेन blogspot.com मिलता है.

आपने अधिकतर न्यूज़ वेबसाइट में सबडोमेन को देखा होगा. जैसे माना news.com एक न्यूज़ की वेबसाइट है. इस वेबसाइट में हम Sports न्यूज़ के लिए Sports.news.com , Politics न्यूज़ के लिए Politics.news.com का प्रयोग भी कर सकते हैं. तो यही हमारे सबडोमेन होते हैं.

डोमेन और URL में अंतर ( Difference Between Domain and URL in Hindi )

बहुत सारे लोगों को यह पता नहीं होता है कि डोमेन नाम और वेबसाइट का URL सामान नहीं हैं. डोमेन नाम और वेबसाइट का URL दोनों अलग – अलग होते हैं.

URL में कई अन्य चीज़े और जुड़ी होती है. जैसे हमारी वेबसाइट का URL है – https://www.hinditechdr.com. URL के माध्यम से यूजर वेबसाइट में किसी पेज या पोस्ट को आसानी से ढूड सकते हैं.

और हमारा डोमेन है hinditechdr.com .डोमेन नाम से यूजर केवल  वेबसाइट तक पहुँच सकते हैं.

यह भी पढ़ें –

डोमेन नाम कैसे चुनें ( How to Select Domain Name )

हमारे वेबसाइट या ऑनलाइन बिजनेस को ब्रांड बनाने के लिए डोमेन नाम महत्वपूर्ण होता है. डोमेन नाम को चुनते समय हमें कुछ बातों को ध्यान में रखना चाहिए.

  • डोमेन नाम हमेशा छोटा और आसानी से याद रखा जाने वाला चुनना चाहिए. जिससे कि हर किसी को आसानी से आपका डोमेन नाम याद रहे.
  • डोमेन नाम को हमेशा अपने ब्लॉग के टॉपिक ( नीच ) के अनुसार ही चुनें.
  • हमेशा एक टॉप – लेवल डोमेन ही खरीदें.
  • एक यूनिक डोमेन नाम लें जो किसी जुबान पर आसानी से चढ़ जाये.
  • अगर आप डोमेन नाम में अपने कीवर्ड का प्रयोग करते हैं तो यह आपके लिए plus point साबित हो सकता है.

डोमेन नाम कहाँ से खरीदें ( Where to buy Domain Name )

आजकल मार्किट में बहुत सारी कंपनी हैं जहाँ से हम अपनी वेबसाइट के लिए एक डोमेन खरीद सकते हैं. कुछ चर्चित कंपनी इस प्रकार से हैं जहाँ से आप Domain खरीद सकते हैं.

डोमेन खरीदने से पहले डोमेन के दामों का विश्लेषण करना चाहिए. जिस वेबसाइट से आपको सस्ते दाम में डोमेन प्राप्त हो जाये वही से खरीदना चाहिए. कई बार Domain Name offer में मिलते हैं Offer में आप 100 रूपये या फ्री में भी डोमेन खरीद सकते हो.

हमने क्या सीखा: Domain Name in Hindi

आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हमने सीखा कि Domain Name Kya Hota Hai.और डोमेन से सम्बंधित सारी जानकारियों के बारे में चर्चा की. उम्मीद करता हूँ इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपके डोमेन नाम को लेकर संशय जरूर दूर हो गए होंगे. लेकिन अगर फिर भी कोई प्र्शन है आपका तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं. धन्यवाद ||

आगे पढ़ें –

0Shares

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||