Heading Tag in SEO Hindi: हैडिंग टैग (H1 – H6) क्या होते हैं

आप जब भी अपनी वेबसाइट के लिए कोई आर्टिकल लिखते हैं तो आप Heading Tag का प्रयोग जरुर करते होंगे. पर क्या आप जानते हैं कि हैडिंग टैग क्या होते हैं (Heading Tag in SEO Hindi), Heading tag का इस्तेमाल क्यों किया जाता है. और SEO के नजरिये से यह कितना महत्वपूर्ण हैं.

अगर आप यह सब नहीं जानते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए. इस आर्टिकल में मैंने आपको हैडिंग टैग के हर बिंदु पर पूरी जानकरी देने का प्रयास किया है, जो कि आपके जरुर काम आएगी. तो चलिए शुरू करते हैं आज का यह लेख और सबसे पहले जानते हैं हैडिंग टैग क्या होते हैं विस्तार से.

हैडिंग टैग क्या होते हैं (What is Heading Tag in Hindi)

आप जब भी कोई अख़बार या कोई मैगजीन पढ़ते हैं तो आपको हैडिंग शुरुवात में लिखी मिलती है. इन हैडिंग की मदद से आप उन टॉपिक को find कर सकते हो जिसमे आपकी रूचि है या जिन्हें आप पढ़ना चाहते हो.

ठीक इसी प्रकार एक ब्लॉग में भी होता है. जो ब्लॉग लिखते (Blogger) हैं वे हैडिंग टैग का इस्तेमाल करते हैं , जिसकी मदद से कोई भी readers ब्लॉग में अपने मतलब के टॉपिक ढूंड सकता है और उसे पढ़ सकता है.

एक ब्लॉग पोस्ट में मुख्यतः 6 प्रकार की हैडिंग का प्रयोग किया जाता है. यह हैडिंग H1 से लेकर H6 तक होती है. H1 का महत्व सबसे अधिक होता है, इसके बाद H2 का तथा इसी प्रकार यह क्रम घटते जाता है और H6 का महत्व सबसे कम होता है.

ब्लॉग पोस्ट में Heading Tag HTML के head section में लिखा मिलता है. यह readers और search engine bots दोनों के नजरिये से महत्वपूर्ण होता है .

हैडिंग टैग की परिभाषा (Definition of Heading Tag in Hindi)

हेडिंग टैग को हम इस प्रकार से परिभाषित कर सकते हैं – ” किसी भी ब्लॉग पोस्ट में हैडिंग टैग एक HTML कमांड होती है जो वेबपेज के Head Section में लिखा मिलता है, इसका उपयोग वेबपेज में हैडिंग और सबहेडिंग को separate करने के लिए किया जाता है.”

SEO में Heading Tag का महत्व

अपने वेबपेज को जल्दी Index कराने के लिए heading tags बहुत महत्वपूर्ण होते हैं. क्योकि जब भी क्रॉलर हमारे वेबपेज में आता है तो वह आर्टिकल को H1 टैग से क्रॉल करना शुरू करता है. और Proper heading बने होने के कारण क्रॉलर पुरे वेबपेज को आसानी से क्रॉल कर लेता है.

अब मानिये, अगर हम हैडिंग टैग का इस्तेमाल नहीं करते है और उसके स्थान पर Heading की formatting कर देते है , मतलब हैडिंग का font बढ़ा देते हैं, उसे bold कर देते हैं. तो ऐसे में reader तो आसानी से पहचान लेगा कि हमारी Main Heading क्या है और बाकी हैडिंग क्या हैं.

लेकिन सर्च इंजन के रोबोट्स यह नहीं पहचान पाते है, बिना हैडिंग टैग के उन्हें पूरा वेबपेज एक पैराग्राफ के सामान दिखाई देता है. और क्रॉलर को वेबपेज क्रॉल करने में बहुत मुश्किल होती है. जिसके कारण Indexing में भी समय लगेगा. इसलिए ब्लॉग पोस्ट में हैडिंग टैग का इस्तेमाल किया जाता है. यह तो था सर्च इंजन के नजरिये से हैडिंग टैग का महत्व.

अब जानते हैं एक readers के नजरिये से हैडिंग का क्या महत्व है. हैडिंग के प्रयोग से कोई वेबपेज कई भागों में बंट जाता है, जिससे readers को जानकारी प्राप्त करने में ज्यादा समय नहीं लगता है. और readers का अनुभव बेहतर बनता है. और आपको Ranking में फायदा मिलता है.

अब तक आप समझ गए होंगे कि हैडिंग टैग क्या होते हैं (Heading Tag in SEO Hindi) अब हैडिंग टैग के प्रकारों के बारे में भी जान लेते हैं.

हैडिंग टैग के प्रकार (Types of Heading Tag in Hindi)

हैडिंग टैग मुख्यतः 6 प्रकार की होती है. H1 से लेकर H6 तक के. आइये इनके बारे में भी जान लेते हैं –

H1 Heading 

H1 किसी भी वेबपेज की सबसे महत्वपूर्ण हैडिंग होती है , जब भी कोई यूजर आपके वेबपेज तक पहुचता है तो, उसकी नजर सबसे पहले Main Heading (H1) पर पड़ती है. H1 tag को लिखते समय हमें कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए –

  • आपको पुरे webpage में केवल एक ही H1 का प्रयोग होना चाहिए.
  • H1 tag में reader क्या जानना चाह रहा है, उस बारे में लिखना है.
  • H1 tag में हमेशा Keyword का प्रयोग करें , यह SEO के नजरिये से भी महत्वपूर्ण है.

H2 Heading

H2 का प्रयोग वेबपेज में किसी एक टॉपिक को Describe करने के लिए किया जाता है. आपके वेबपेज में जितने अधिक टॉपिक होंगे उतने H2 हैडिंग का आप प्रयोग कर सकते हैं.

H3 Heading

अगर आपके वेबपेज में H2 के अन्दर कोई टॉपिक है तो उसे Describe करने के लिए H3 का प्रयोग करते हैं.

H4 Heading

अगर वेबपेज में हम H3 को और अधिक Details में बताना चाहते हैं तो H4 का प्रयोग किया जाता है.

H5 Heading

H5 का प्रयोग वेबपेज में H4 को और अधिक detail में समझाने के लिए किया जाता है.

H6 Heading 

H6 वेबपेज की सबसे छोटी हैडिंग होती है. इसका प्रयोग वेबपेज को पुरे detail में explain करने के लिए किया जाता है.

HTML में Heading Tag 

HTML Coding में हमारी सभी heading कुछ इस प्रकार दिखाई देती है –

< head >
    < h1 > Your Webpage Major Heading < /h1 >
    < h2 > Your Webpage heading < / h2 >
    < h3 > Your Webpage Sub Heading < / h3 >
    < h4 > Your Webpage Sub - Sub Heading < / h4 >
    < h5 > Your Webpage Mini Heading < / h5 >
    < h6 > Your Webpage Micro Heading < / h6 >
< / head >

नोट – H1 टैग का इस्तेमाल पुरे वेबपेज में एक ही बार करें, बाकीं हैडिंग टैग का इस्तेमाल आप अपनी आवश्यकतानुसार कर सकते हैं. और इस लेख में जितनी बार भी वेबपेज का इस्तेमाल किया गया है उसका मतलब ब्लॉग पोस्ट से है.

यह लेख भी पढ़ें

आपने क्या सीखा: Heading Tag in SEO Hindi

तो दोस्तों इस लेख में मैंने आपको हैडिंग टैग के बारे में (Heading Tag in SEO Hindi) जानकारी दी है जिसे पढ़कर आप समझ गए होंगे कि हैडिंग टैग क्या होते हैं और SEO में हैडिंग टैग क्यों महत्वपूर्ण हैं.

Best SEO Practice के लिए आप Heading Tag का इस्तेमाल क्रमानुसार सही से करें इससे आपकी वेबसाइट के SEO में Improvement होता है. उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख जरुर पसंद आया होगा, इस लेख को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें.

लेख को अंत तक पढने के लिए धन्यवाद||

0Shares
Categories SEO

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||

2 thoughts on “Heading Tag in SEO Hindi: हैडिंग टैग (H1 – H6) क्या होते हैं”

Leave a Comment