Blog Me Kya Likhe, और कैसे लिखें – पूरी जानकारी

हेलो दोस्तों स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग Hindi Tech DR के एक और नए लेख में जिसमें हम बात करेंगे Blog Me Kya Likhe. अधिकतर लोग अपना ब्लॉग तो बना लेते हैं लेकिन ब्लॉग बनाने के बाद उन्हें समझ में नहीं आता है कि आखिर ब्लॉग में क्या लिखें.

यह समस्या लगभग हर एक नए ब्लॉगर के साथ आती है. जब मैंने ब्लॉग्गिंग की शुरुवात की थी तो मेरे सामने सबसे बड़ा प्रश्न यही था, इसी समस्या के कारण मेरे शुरुवात में बहुत सारे ब्लॉग फेल भी हो गए थे. लेकिन जैसे धीरे – धीरे मैं ब्लॉग्गिंग को सीखना और समझना शुरू किया तो मुझे इस सवाल का जवाब भी मिला गया.

आज के समय में मेरे अनेक सारे ब्लॉग हैं लेकिन अब मेरे सामने यह समस्या कभी नहीं आती है कि ब्लॉग में क्या लिखूं. आज के इस आर्टिकल के माध्यम से मैं आपको अपने अनुभवों के आधार पर बताऊंगा कि ब्लॉग पर क्या लिखें, और ब्लॉग में कैसे लिखें.

इस आर्टिकल को कम्पलीट पढने के बाद आपके सामने भी कभी यह समस्या नहीं आयेगी कि Blog Me Kya Likhe. तो चलिए दोस्तों बिना किसी देरी के शुरू करते हैं आज का यह आर्टिकल.

ब्लॉग में क्या लिखें (Blog Me Kya Likhe)

अगर आप ब्लॉग्गिंग में एकदम नए हैं तो सबसे पहले आपको बता दूँ Content is King, यानि आपका कंटेंट या आर्टिकल ही राजा है. जितना अच्छा और यूनिक आप आर्टिकल लिखेंगे उतनी ही अधिक संभावना आपके ब्लॉग्गिंग में success होने की बढ़ जाती है. क्योंकि एक अच्छा कंटेंट ही सर्च इंजन में रैंक करता है और ब्लॉग पर ट्रैफिक लेकर आता है. गूगल या अन्य सर्च इंजन भी ऐसे ब्लॉग को ही अच्छी रैंकिंग देते हैं जिनके कंटेंट में दम होता है.

अधिकतर नए ब्लॉगर के मन में यह ग़लतफ़हमी रहती है कि ब्लॉग बनाकर उसमें कुछ भी आर्टिकल डालने से पैसे आना शुरू हो जायेंगें. लेकिन अगर आप वास्तव में ब्लॉग्गिंग से पैसे कमाना चाहते हैं तो आपको अपना ध्यान पैसों से हटाकर काम पर देना होगा, क्योंकि ब्लॉग्गिंग से ठीक – ठाक पैसे कमाने में लगभग 1 साल तक का समय लग जाता है, वो भी तब जब आप पुरे Dedication के साथ काम करते हैं.

चलिए अब आते हैं हम अपने आज के मुख्य प्रश्न की तरफ ब्लॉग में क्या लिखें? आपने कभी यह सोचा है कि यह समस्या आखिर आती क्यों है, इसका सही जवाब है हम बिना प्लानिंग के ही ब्लॉग्गिंग स्टार्ट कर लेते हैं. शुरुवात में हमें कोई भी आईडिया नहीं होता है कि हमें किस टॉपिक पर ब्लॉग लिखना है.

जो Pro ब्लॉगर होते हैं वह पूरी प्लानिंग के साथ ब्लॉग बनाते हैं, इसलिए वे कभी यहाँ पर नहीं फंसते हैं कि ब्लॉग में क्या लिखना है. चलिए अब मैं आपको बताता हूँ कि कैसे आपको ब्लॉग बनाना है जिससे आपको कभी इस समस्या का सामना नहीं करना पड़ें.

ब्लॉग पर क्या लिखें?

  • ब्लॉग ऐसे Niche पर बनाये जिसमें आपको Interest हो, और जिस टॉपिक पर आप आसानी से अच्छे आर्टिकल लिख सकते हैं.
  • ब्लॉग का Niche सेलेक्ट करने के बाद आपको अपनी Niche से related कम से कम 100 टॉपिक या कीवर्ड Find करके Note कर लेने हैं जिन पर आप आर्टिकल लिखेंगें. इससे आपको हर बार यह नहीं सोचना पड़ेगा कि अब किस टॉपिक पर लिखूं.
  • ब्लॉग के लिए कंटेंट रिसर्च करने के लिए आप Quora, गूगल क्वेश्चन हब जैसे टूल का इस्तेमाल कर सकते हैं.
  • ब्लॉग के लिए अच्छे टॉपिक ढूंढने के लिए कीवर्ड रिसर्च भी करें. इससे आपको यह आईडिया हो जायेगा कि जिस टॉपिक पर आप आर्टिकल लिख रहे हैं उसके बारे में कितने लोग इन्टरनेट पर खोज रहे हैं.

अगर आप इस प्रकार से पूरी प्लानिंग करके कम से कम 100 टॉपिक find कर लेते हैं तो आपको कभी भी यह नहीं सोचना पड़ेगा कि ब्लॉग में क्या लिखें. 100 टॉपिक पर आर्टिकल लिखने तक आपको अनेक सारे अन्य टॉपिक भी मिल जायेंगें. फिर आपको ब्लॉग में लिखने के लिए अनलिमिटेड टॉपिक मिल जायेंगें.

लेकिन एक बात का ध्यान ही रखें कि आपको केवल लिखने से मतलब नहीं रखना है, आप ऐसे टॉपिक पर आर्टिकल लिखें जिसमें आपको Interest भी हो और उसकी मार्केट में डिमांड भी हो, तभी आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक आयेगा.

ब्लॉग कैसे लिखें?

वैसे मैंने अपने ब्लॉग में ब्लॉग कैसे लिखें से सम्बंधित अनेक सारे आर्टिकल लिखें हैं जिन्हें पढ़कर आप एक अच्छा ब्लॉग पोस्ट लिख सकते हैं. इसके लिए आप हमारे ब्लॉग के Content वाले केटेगरी के लेख पढ़ सकते हैं.

लेकिन फिर भी इस लेख में मैंने आपको संक्षित में बताया है कि ब्लॉग कैसे लिखें ताकि आपको अधिक खोजना ना पढ़ें.

  1. ब्लॉग पोस्ट का Catchy टाइटल लिखें, क्योंकि टाइटल सर्च इंजन में यूजर को दिखता है.
  2. ब्लॉग लिखने की शैली आसान होनी चाहिए ताकि ब्लॉग पर आने वाले हर एक यूजर को समझ आये.
  3. SEO फ्रेंडली आर्टिकल लिखें, क्योंकि ऐसे ही आर्टिकल में सर्च इंजन में रैंक करते हैं.
  4. ब्लॉग में कीवर्ड प्लेसमेंट अच्छी प्रकार से करें, कीवर्ड को Over Optimize ना करें.
  5. ब्लॉग पोस्ट का URL SEO फ्रेंडली बनायें.
  6. H1, H2, H3 आदि हैडिंग टैग का इस्तेमाल करें.
  7. पोस्ट के अन्दर कम से कम 1 इमेज का इस्तेमाल करें, जरुरत पढने पर आप अधिक इमेज का इस्तेमाल कर सकते हैं.
  8. पोस्ट में विडियो भी embed करें, क्योंकि कई यूजर टेक्स्ट के बजाय विडियो देखकर जल्दी समझ जाते हैं.
  9. पोस्ट में Table of Content का इस्तेमाल भी करें, जिससे यूजर शुरुवात में ही अपने मतलब के हैडिंग को ढूंड सकता है.
  10. जरुरी शब्दों को Bold करें.

तो दोस्तों यह कुछ शुरुवाती टिप्स हैं जिन्हें फॉलो करके आप ब्लॉग पोस्ट लिख सकते हैं. नीचे मैंने आपको कुछ आर्टिकल Suggest किये हैं आप इन्हें पढ़कर कंटेंट राइटिंग को अच्छे से समझ सकते हैं.

निष्कर्ष,

आज के इस ब्लॉग पोस्ट में हमने आपको Blog Me Kya Likhe के बारे में कम्पलीट इनफार्मेशन प्रदान है, हमें पूरी उम्मीद है कि इस आर्टिकल को पढने के बाद आपको अच्छी प्रकार से समझ में आ गया होगा कि ब्लॉग में क्या लिखें.

यदि अभी भी आपके मन में इस आर्टिकल से सम्बंधित कोई प्रश्न हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं हम जल्दी ही आपके सवालों का जवाब देने की कोशिस करेंगें. और अगर इस आर्टिकल से आपको कुछ सीखने को मिला है तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करें.

लेख को अंत तक पढने के लिए धन्यवाद||

0Shares

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||

Leave a Comment