Email Marketing Kya Hai और ईमेल मार्केटिंग कैसे करें

हेलो दोस्तों, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग Hindi Tech DR के एक और नये लेख में जिसमें हम बात करने वाले हैं Email Marketing Kya Hai, ईमेल मार्केटिंग के प्रकार, ईमेल मार्केटिंग कैसे करें और ईमेल मार्केटिंग के फायदे व नुकसान क्या है.

एक समय हुआ करता था जब मार्केटिंग करने के लिए कुछ ही प्लेटफ़ॉर्म मौजूद थे, जैसे कि TV चैनल, रेडिओ, अखबार, बैनर आदि, लेकिन जैसे – जैसे टेक्नोलॉजी में विकास होता गया तो मार्केटिंग के भी अनेक सारे नये तरीके आते गए, जिसमें से एक बहुत Powerful तरीका Email Marketing का है.

आपने देखा भी होगा जब आप इन्टरनेट पर किसी वेबसाइट में Sign up करते हैं, या ऑनलाइन किसी प्रोडक्ट को खरीदते हैं तो आपको उन वेबसाइटों में अपनी ईमेल देनी होती है. बाद में वह कंपनी अपने नए प्रोडक्ट के बारे में या कोई अपडेट के बारे में आपको बताती है, यही ईमेल मार्केटिंग होती है.

ईमेल मार्केटिंग को गहराई में समझने के लिए इस लेख को पूरा अंत तक जरुर पढ़ें, तो चलिए आपका अधिक समय ना लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को और जानते हैं ईमेल मार्केटिंग क्या है विस्तार से.

ईमेल मार्केटिंग क्या है (What is Email Marketing)

ईमेल मार्केटिंग एक रूप होता है डिजिटल मार्केटिंग का जिसमें आप किसी खास संदेश को एक साथ कई लोगों के डिवाइस में ईमेल के माध्यम से पहुंचा सकते हैं. ईमेल मार्केटिंग के द्वारा आप बहुत सारे लोगों तक एक क्लिक में अपने प्रोडक्ट को पहुंचा सकते हैं और अपने कस्टमर बढ़ा सकते हैं.

Email Marketing एक बहुत ही Powerful marketing होती है, जिसमें Conversion Rate किसी भी अन्य Digital Marketing Technique की तुलना में बहुत High होता है. इसलिए मार्केटिंग में अक्सर कहा भी जाता है कि एक ईमेल आपको हर महीने 1$ बना कर देती है.

ईमेल मार्केटिंग के द्वारा बिज़नस का अपने कस्टमर के साथ अच्छा Relation बन जाता है. इसके साथ ही कस्टमर को आपके ब्रांड की सारी अपडेट मिलती है जिससे आपके व्यवसाय में लगातार बढ़ोतरी होते रहती है.

आसान शब्दों में कहें तो ईमेल मार्केटिंग एक ऐसी मार्केटिंग तकनीक है जिसके द्वारा आप अपने प्रोडक्ट या सर्विस का प्रचार करने के लिए ईमेल का उपयोग करते हैं. या किसी मैसेज को एक साथ कई लोगों के ईमेल पर भेजना ही ईमेल मार्केटिंग है.

ईमेल मार्केटिंग के उद्देश्य

ईमेल मार्केटिंग के बारे में अधिक जानने से पहले हमें यह पता होना भी जरुरी है कि ईमेल मार्केटिंग क्यों की जाती है, या ईमेल मार्केटिंग करने का उद्देश्य क्या है.

ईमेल मार्केटिंग करने के मुख्य रूप से 3 उद्देश्य हो सकते हैं.

  • अपने प्रोडक्ट की अपडेट को अपने कस्टमर तक पहुँचाना.
  • नए ऑफर या नए प्रोडक्ट के बारे में कस्टमर को बताना.
  • अपने बिज़नस के लिए नए कस्टमर बनाना या ट्रैफिक Generate करना.

यही वह Purpose होते हैं जिसके द्वारा कोई कंपनी या वेबसाइट आपकी ईमेल लेती है.

ईमेल मार्केटिंग के प्रकार (Types of Email Marketing)

Email Marketing क्या है समझने के बाद ईमेल मार्केटिंग के प्रकारों के विषय में भी जान लेते हैं. ईमेल मार्केटिंग मुख्य रूप से दो प्रकार की होती है –

  • Transactional Email Marketing
  • Direct Email Marketing

चलिए इनके बारे में थोडा विस्तार से जान लेते हैं.

#1 – Transactional Email Marketing

Transactional email marketing ऐसी तकनीक होती है जिसके द्वारा कोई यूजर खुद ही कंपनी को अपनी ईमेल देता है. जैसे आप किसी ब्लॉग या वेबसाइट में विजिट करते हैं, और यदि आपको ब्लॉग का Content पसंद आता है तो आप उसमें लगे ईमेल सब्सक्राइब बटन के द्वारा अपनी ईमेल ID से ब्लॉग को सब्सक्राइबर कर देते हैं.

Email के द्वारा Blog को सब्सक्राइब करने से उस ब्लॉग के हर एक नए पोस्ट की अपडेट आपके स्मार्टफोन, टेबलेट या लैपटॉप में ईमेल के द्वारा पहुँच जाती है. यही Transactional Email Marketing कहलाती है.

#2 – Direct Email Marketing

Direct Email में यूजर को किसी कंपनी से प्रोडक्ट या सर्विस लेने के लिए उनकी वेबसाइट में अपना अकाउंट बनाना होता है, जिसमें यूजर को अपनी ईमेल ID भी fill करनी होती है.

जब कंपनी के पास कस्टमर की ईमेल ID आ जाती है तो वह विभिन्न प्रकार के ईमेल कस्टमर को भेजते हैं, जैसे नए प्रोडक्ट की अपडेट, ऑफर, प्रमोशन ईमेल इत्यादि. यही Direct Email Marketing है.

ईमेल मार्केटिंग कैसे करें (How to do Email Marketing)

लेख को यहाँ तक पढने के बाद आपको थोडा बहुत समझ में आ गया होगा कि Email Marketing Kya Hai. चलिए अब जानते हैं ईमेल मार्केटिंग कैसे करते हैं स्टेप वाइज.

ईमेल मार्केटिंग ऑटोमेशन पर होती है जिसमें ईमेल मार्केटिंग सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल होता है. ईमेल मार्केटिंग ऐसे नहीं होती है कि आप हर एक को एक – एक कर ईमेल भेज रहे हैं, ईमेल मार्केटिंग में एक साथ ग्रुप में कई लोगों को ईमेल भेजी जाती है.

आपको ईमेल टूल का सेटअप करना होता है कि, कब – कब आपको ईमेल भेजना है, क्या ईमेल भेजना है इत्यादि. इसके बाद आपको पूरी ईमेल लिस्ट को टूल में Add करना होता है और फिर Automatic ईमेल जाते रहती है. तो इस प्रकार से ईमेल मार्केटिंग की जाती है.

ईमेल मार्केटिंग करने के स्टेप निम्नलिखित हैं –

  • एक ईमेल ID बनाये
  • ईमेल लिस्ट बनायें
  • ईमेल मार्केटिंग टूल को सेटअप करें
  • ईमेल टेम्पलेट बनायें
  • ईमेल भेजें

#1 – Email ID बनायें

ईमेल मार्केटिंग करने के लिए सबसे पहले आपके एक बिज़नस Email होना चाहिए, या कहें एक प्रोफेशनल ईमेल ID होनी चाहिए. आप Gmail या Outlook पर आसानी से एक ईमेल ID बना सकते हैं.

अगर आप बिज़नस के लिए ईमेल मार्केटिंग करना चाहते हैं तो आपको एक बिज़नस ईमेल बनाना चाहिए. उदाहरण के लिए माना आपकी कंपनी का नाम Hinditechdr है तो आपको [email protected] ऐसी ईमेल ID बनानी चाहिए. आप अपने होस्टिंग प्रदाता कंपनी के पास से आसानी से बिज़नस ईमेल बना सकते हैं.

#2 – ईमेल लिस्ट बनायें

ईमेल ID को हर कोई बना सकता है, लेकिन ईमेल मार्केटिंग करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है आपके पास एक ईमेल लिस्ट होनी चाहिए क्योंकि बिना ईमेल लिस्ट के आप ईमेल मार्केटिंग नहीं कर सकते हैं. अब एक सवाल यह आता है कि ईमेल लिस्ट कैसे बनायें, तो हम आपको कुछ तरीके बता रहे हैं जिनके द्वारा आप आसानी से ईमेल लिस्ट बना सकते हैं.

Buy Email – ईमेल लिस्ट बनाने का सबसे आसन तरीका है आप किसी कंपनी से ईमेल खरीद सकते हैं. अगर आप इन्टरनेट पर थोड़ी बहुत रिसर्च करेंगे तो आपको अनेक सारी ऐसे कंपनियां मिल जायेंगी जो किसी Specific Niche की ईमेल लिस्ट आपको Provide करवा देती हैं, लेकिन इसके लिए आपको पैसे खर्च करने पड़ेंगे.

Blog बनाकर – आप एक ब्लॉग बना सकते हैं और उसमें Email Subscribe का Form लगा सकते हैं तथा अपने विजिटर को ईमेल के द्वारा ब्लॉग Subscribe करने के लिए कह सकते हैं. इससे आपको दो फायदे मिलेंगे – एक तो आपके पास ईमेल लिस्ट तैयार हो जायेगी, और दूसरा आपके हर एक नये पोस्ट की अपडेट आपके सब्सक्राइबर के पास ईमेल के द्वारा पहुँच जायेगी जिससे आपकी वेबसाइट में ट्रैफिक बढेगा.

Paid Campaign – आप एक लैंडिंग पेज बनाकर गूगल, फेसबुक पर Paid विज्ञापन चला सकते हैं और यूजर को कुछ Value Provide करवाकर उनकी ईमेल प्राप्त कर सकते हैं. यह एक Lead Generation Campaign होता है.

#3 – ईमेल मार्केटिंग टूल का सेटअप करें

जब आपके पास ईमेल लिस्ट बन जाती है तो अगला सेटप आता है एक सही ईमेल मार्केटिंग सॉफ्टवेयर का चयन करें. आप सॉफ्टवेयर के द्वारा ही बल्क में ईमेल भेज पाते हैं. आपको ईमेल मार्केटिंग सॉफ्टवेयर में अपनी ईमेल लिस्ट Add करनी होती है और फिर Email Schedule का सेटअप करना होता है.

ईमेल मार्केटिंग के लिए कुछ बेस्ट टूल हमने नीचे आपको बताये हैं –

  • MailChimp
  • AWeber
  • Convertkit
  • Active Camping
  • HubSpot
  • Sendinblue

#4 – ईमेल टेम्प्लेट बनायें

ईमेल मार्केटिंग को Successful बनाने के लिए ईमेल टेम्पलेट बहुत महत्वपूर्ण होते हैं. ईमेल टेम्पलेट के द्वारा कस्टमर या ईमेल प्राप्त करने वाले को पता चलता है कि ईमेल को किस उद्देश्य से भेजा गया है. जैसे प्रोडक्ट अपडेट, वेबिनार, ऑफर आदि.

अधिकतर सॉफ्टवेयर में आपको अनेक सारे Pre Designed ईमेल टेम्प्लेट मिल जाते हैं जिन्हें आप अपनी आवश्यकता अनुसार उपयोग कर सकते हैं. एक बेहतर ईमेल टेम्पलेट के द्वारा आप Conversion को बढ़ा सकते हैं.

#5 – ईमेल भेजें

पूरा ईमेल सेटअप करने के बाद आपको ईमेल Campaign चलाना होता है जिसमें बल्क में कई सारे ईमेल भेजे जाते हैं. आप ईमेल भेजने के साथ यह पता कर सकते हैं कि ईमेल किस फोल्डर में गया जैसे Inbox, Promotion, Spam.

इसके साथ ही Email Campaign में आप यह भी ट्रैक कर सकते हैं कितने लोगों ने ईमेल को ओपन किया, कितने लोगों ने Unsubscribe किया और कितने लोगों ने आपके द्वारा ईमेल में दी गयी लिंक पर क्लिक किया. और उसके आधार पर आप अपने Email Campaign को और अधिक Optimize कर सकते हैं.

तो यह थी ईमेल मार्केटिंग के काम करने की पूरी प्रोसेस, जो कि ज्यादा कठिन भी नहीं है. ईमेल मार्केटिंग करने के लिए आपको ईमेल सॉफ्टवेयर पर काम करना सीखना होगा.

ईमेल मार्केटिंग के फायदे (Advantage of Email Marketing)

Email Marketing के अनेक सारे फायदे होते हैं इसलिए कंपनियां व्यापक रूप से ईमेल मार्केटिंग करती है. ईमेल मार्केटिंग के कुछ प्रमुख फायदे निम्नलिखित हैं –

  • ईमेल मार्केटिंग के द्वारा आप अपने Targeted कस्टमर को अपने प्रोडक्ट के बारे में बताकर अधिक Sale Generate कर सकते हैं.
  • ईमेल मार्केटिंग करने में अधिक समय नहीं लगता है आपको केवल एक बार सॉफ्टवेयर में ईमेल लिस्ट Add करनी होती है और ईमेल टेम्पलेट और Schedule निर्धारित करना होता है. इसके बाद आपकी ईमेल आटोमेटिक जाते रहती है.
  • ईमेल मार्केटिंग को ट्रैक करना बहुत आसान है, आप सॉफ्टवेयर में ही Check कर सकते हैं आपकी ईमेल कैसा परफॉर्म कर रही हैं.
  • आप एक समय में अनेक लोगों को ईमेल भेज सकते हैं, या कहें तो अपने प्रोडक्ट को मार्केट कर सकते हैं.
  • अन्य मार्केटिंग तकनीक की तुलना में आप ईमेल मार्केटिंग को कम बजट में कर सकते हैं, कई सारे ईमेल सॉफ्टवेयर आपको फ्री में कुछ ईमेल भेजने की सुविधा देते हैं.
  • ईमेल मार्केटिंग में Conversion Rate बहुत High होते हैं, इसलिए लगभग सभी कंपनियां ईमेल मार्केटिंग का इस्तेमाल करती हैं.
  • कंपनी का कस्टमर के साथ अच्छा Relation बनता है.
  • अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर ट्रैफिक भेजकर अपनी Earning को बढ़ा सकते हैं.

ईमेल मार्केटिंग के नुकसान (Disadvantage of Email Marketing)

ईमेल मार्केटिंग के फायदों के साथ – साथ इसके कुछ नुकसान भी हैं. ईमेल मार्केटिंग के कुछ नुकसान निम्नलिखित हैं –

  • अगर आपने ईमेल को सही से डिजाईन नहीं किया है, या ईमेल में कुछ Spamy शब्दों का इस्तेमाल किया है तो आपकी ईमेल स्पैम फोल्डर में चले जाती है.
  • अगर आप सही लोगों तक अपनी ईमेल नहीं पहुंचाते हैं तो वह आपकी ईमेल को Unsubscribe कर सकते हैं.
  • अगर आप ईमेल में बड़ी साइज़ की फाइलों को attach करते हैं तो आपके कस्टमर ईमेल में कोई खास दिलचस्पी नहीं दिखाते हैं.
  • एक सफलतापूर्वक email campaign चलाने के लिए आपकी मार्केटिंग स्किल और ईमेल सॉफ्टवेयर में पकड़ अच्छी होनी चाहिए.

यह लेख भी पढ़ें –

आपने क्या सीखा: Email Marketing Kya Hai in Hindi

इस लेख के माध्यम से हमने जाना कि Email Marketing Kya Hai, और ईमेल मार्केटिंग कैसे कर सकते हैं. साथ ही हमने आपको ईमेल मार्केटिंग के फायदे और नुकसानों के बारे में भी बताया है. अगर आप अपने बिज़नस को बढ़ाना चाहते हैं तो ईमेल मार्केटिंग आपके लिए एक अच्छा विकल्प है.

तो दोस्तों इस लेख में इतना ही, उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख जरुर पसंद आया होगा. यदि इस लेख से आपको कुछ सीखने को मिला है तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरुर करें.

लेख को अंत तक पढने के लिए धन्यवाद||

0Shares

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||