Technical SEO Kya Hai और कैसे करें

Technical SEO Kya Hai – बात जब भी SEO की होती है तो On Page SEO और Off Page SEO के बारे में ही अधिक बातें होती हैं. जिसके कारण एक beginner Technical SEO में ज्यादा फोकस नहीं करता है. लेकिन आज SEO बहुत advance हो चुका है, बिना Technical SEO के एक वेबसाइट को रैंक करवाना एक मुश्किल काम है.

On Page और Off Page की तरह ही Technical SEO भी SEO का एक प्रकार है. वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक करवाने के लिए Technical SEO एक बहुत महत्वपूर्ण Factor है. चाहे हमारा On Page और Off Page SEO कितना ही Best हो लेकिन बिना Technical SEO के एक वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक करवाना बहुत मुश्किल होता है.

अगर आप टेक्निकल SEO के बारे में सीखना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा अंत तक जरुर पढ़ें. आज के इस लेख के माध्यम से मैं आपको Technical SEO की पूरी जानकारी देने वाला हूँ, जिसे पढ़कर आप भी अपने वेबसाइट का Technical SEO करके वेबसाइट को रैंक करवा सकते हैं.

तो चलिए आपका ज्यादा समय न लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को और जानते हैं Technical SEO Kya Hai विस्तार से.

टेक्निकल SEO क्या है (What is Technical SEO in Hindi)

एक वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक करवाने के लिए वेबसाइट में तकनीकी रूप से जो सुधार किया जाता है उसे ही Technical SEO कहते हैं.

वेबसाइट के कंटेंट से Technical SEO का कोई सम्बन्ध नहीं है, मतलब कि आप कीवर्ड प्लेसमेंट, मेटा टैग, इंटरनल लिंक, टाइटल आदि टेक्निकल SEO के अंतर्गत नहीं आते हैं.

Technical SEO के अंतर्गत वेबसाइट स्पीड, Domain Name, वेबसाइट Layout, XML Sitemap जैसी आदि चीजें आती हैं.

Technical SEO Checklist

Technical SEO की एक Checklist मैंने आपको नीचे बताई है जिसके आधार पर हम अपनी वेबसाइट का Technical SEO करेंगें.

  1. Domain Name
  2. Install SSL Certificate
  3. Create XML Sitemap
  4. Optimize Robots.txt File
  5. Website Layout
  6. Loading Speed
  7. Mobile Friendly
  8. Should Be Crawlable
  9. Use Schema Markup
  10. Fix Broken Link
  11. Reduce Spam Score
  12. Add Canonical Tag
  13. Check Google Search Console

Technical SEO कैसे करें

तो दोस्तों अभी तक आप समझ गए होंगे कि Technical SEO Kya Hai अब जानते हैं कि Technical SEO को कैसे किया जाता है.

1 – डोमेन बिना www और www के साथ एक्सेस होना चाहिए

वेबसाइट का टेक्निकल SEO तभी से शुरू हो जाता है जब हम अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए Domain Name खरीदते हैं. हमेशा एक Top Level Domain खरीदें. और आपका Domain www और बिना www के साथ एक्सेस किया जाना चाहिए. अगर इनमें से किसी भी एक में आपकी वेबसाइट Open नहीं होती है तो यह आपके वेबसाइट के टेक्निकल SEO पर बुरा प्रभाव डालेगा.

2 – SSL Certificate Install होना चाहिए

आपकी वेबसाइट में SSL सर्टिफिकेट होना जरुरी है. SSL सर्टिफिकेट एक Direct रैंकिंग सिग्नल है और यह आपके वेबसाइट को सुरक्षित भी बनाती है.

3 – XML साईटमैप बना होना चाहिए

XML Sitemap वेबसाइट के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है. ये सर्च इंजन बोट्स के लिए एक वेबसाइट का एक नक्शा तैयार कर देते हैं जिससे कि सर्च इंजन बोट्स को वेबसाइट की Crawling में आसानी होती है. इसलिए आपकी वेबसाइट में XML Sitemap बना होना चाहिए और XML Sitemap को गूगल सर्च कंसोल में भी सबमिट करें.

4 – Robots.txt फाइल बनी होनी चाहिए

सर्च इंजन के क्रॉलर जब भी वेबसाइट को क्रॉल करने आते हैं तो सबसे पहले वह वेबसाइट में Robots.txt File को Check करते हैं और देखते हैं कि उन्हें वेबसाइट के किस पेज को क्रॉल करना है और किसे नहीं.

अगर वेबसाइट में Robots.txt फाइल नहीं बनी होगी तो क्रॉलर आपके ऐसे पेज को भी क्रॉल कर लेगा जो महत्वपूर्ण नहीं है और जो महत्वपूर्ण पेज हैं वे क्रॉल नहीं हो पायेंगे.

इसलिए Robots.txt फाइल का होना बहुत जरुरी है. आप Robots.txt फाइल को Optimize भी सही से करें, ताकि आप किसी Important पेज की Indexing को न रोक दो.

5 – वेबसाइट Layout सरल रखें

वेबसाइट का Layout हमेशा सरल रखें. ज्यादा चमक – धमक की चीजें वेबसाइट में Add न करें. वेबसाइट का Look जितना Simple होगा यूजर experience उतना बेहतर होगा. लोग आपकी वेबसाइट पर रुकना पसंद करेंगे जिससे कि आपका Bounce Rate और Exit Rate भी Maintain रहेगा.

6 – वेबसाइट की Loading Speed Fast रखें

वेबसाइट की लोडिंग स्पीड भी SEO के नजरिये से बहुत महत्वपूर्ण है, अगर आपकी वेबसाइट लोड होने में बहुत अधिक समय लगाती है तो यूजर आपकी वेबसाइट में रुकना पसंद नहीं करेंगे और आपकी वेबसाइट की Ranking Down हो सकती है.

वेबसाइट की बेहतर स्पीड के लिए अच्छे Hosting में निवेश करें. अगर आपके पास थोडा बजट है तो आप Bluehost Hosting का इस्तेमाल कर सकते हैं. Bluehost एक Best होस्टिंग प्रोवाइडर हैं. यह होस्टिंग WordPress के द्वारा recommended भी है.

7 – वेबसाइट Mobile Friendly होनी चाहिए

आपकी वेबसाइट जिस प्रकार से डेस्कटॉप में खुलती है उसी प्रकार से मोबाइल में भी खुलनी चाहिए. आज के समय में लोग मोबाइल के द्वारा ही अधिक इन्टरनेट एक्सेस करते हैं इसलिए वेबसाइट का Mobile Friendly होना बहुत जरुरी है.

वेबसाइट को मोबाइल Friendly बनाने के लिए आप एक मोबाइल फ्रेंडली और Lightweight थीम का इस्तेमाल कर सकते हैं. Generatepress Theme में यह सारे Feature मौजूद हैं. अधिकतर Blogger Generatepress का ही इस्तेमाल करते हैं.

मेरी वेबसाइट भी Generatepress पर ही बनी है. आप भी Generatepress Theme का इस्तेमाल अपनी वेबसाइट को मोबाइल फ्रेंडली और फ़ास्ट लोडिंग के लिए कर सकते हैं.

आप AMP install करके भी वेबसाइट को मोबाइल फ्रेंडली बना सकते हैं.

8 – वेबसाइट Crawlable होनी चाहिए

आपकी वेबसाइट Crawlable होनी चाहिए. सर्च इंजन के क्रॉलर के पास एक वेबसाइट को क्रॉल करने के लिए निश्चित Time और Resource होता है जिसे कि Crawl Budget कहते हैं.

अगर क्रॉलर आपकी वेबसाइट पर आता है और आपकी वेबसाइट लोड नहीं हो पाती है, या Down time में होती है तो आपकी वेबसाइट क्रॉल नहीं हो पाएगी जिससे आपके आर्टिकल इंडेक्स नहीं होंगे. इसलिए वेबसाइट का Crawlable होना महत्वपूर्ण है.

अगर आपको blogging में सफल बनना है तो आपको एक अच्छी होस्टिंग लेनी ही पड़ेगी. लेकिन आपके पास होस्टिंग में निवेश करने के लिए पैसे नहीं है तो आप Blogger पर फ्री में अपना ब्लॉग बना सकते हैं.

9 – ब्रोकन लिंक को फिक्स करें

वेबसाइट में कई बार अनेक कारणों से ब्रोकन लिंक बन जाती है जिसके कारण 404 का error आने लगता है. 404 का error आना टेक्निकल SEO के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है. अगर आपकी वेबसाइट में कोई ब्रोकन लिंक बनी है तो आप उसे Find करके सही URL पर Redirection कर दें. इससे Broken Link फिक्स हो जाएगा.

10 – Spam Score कम करें

अधिक संख्या में Bad बैकलिंक बन जाने से वेबसाइट का Spam Score बढ़ जाता है. Spam Score का बढ़ना भी वेबसाइट के SEO के लिए सही नहीं है. Spam Score बढ़ने से वेबसाइट की रैंकिंग Down हो जाती है.

अगर आपके वेबसाइट का स्पैम स्कोर बढ़ गया है तो तुरंत उसे कम करने के लिए effort करें. आप Bad Backlink को Find करके Google Disavow Tool के द्वारा Disavow करें.

11 – वेबसाइट में Schema Markup add करें

Schema Markup वेबसाइट के बारे में एक Micro Data होता है जो सर्च इंजन को महत्वपूर्ण जानकारी देते हैं. यह एक HTML Tag होता है. Schema Markup add करने से वेबसाइट का CTR (Click through rate) बढ़ता है.

गूगल के Feature snippet में अपनी वेबसाइट को feature करने के लिए Schema markup का प्रयोग किया जाता है. Schema markup add करने के लिए आप किसी SEO Plugin का इस्तेमाल कर सकते हैं.

12 – वेबसाइट में Canonical Tag add करें

Technical SEO में Canonization एक Important Factor है. जब एक वेबपेज के एक से अधिक URL बन जाते हैं तो वेबसाइट में Canonical issue या डुप्लीकेट कंटेंट की Problem आ जाती है.

Canonical issue को दूर करने के लिए वेबसाइट में Canonical Tag का इस्तेमाल करते हैं. Canonical Tag का इस्तेमाल करने से सर्च इंजन बोट्स Main URL को Index करते हैं बांकि अन्य URL को Ignore कर देते हैं.

13 – गूगल सर्च कंसोल में आने वाले error को Fix करें

गूगल सर्च कंसोल को भी Check करते रहें और जो भी error आपको नजर आते हैं उन सभी को फिक्स करें. गूगल सर्च कंसोल में आने वाले सभी error को फिक्स करने से आपके वेबसाइट का टेक्निकल SEO बहुत ज्यादा improve होगा.

यह भी पढ़ें –

अंतिम शब्द: Technical SEO Kya Hai हिंदी में

वेबसाइट को गूगल के पहले पेज में रैंक करवाने के लिए Technical SEO बहुत महत्वपूर्ण फैक्टर है. इसलिए आप उपरोक्त बताये गए तरीकों का इस्तेमाल करके अपने वेबसाइट का Technical SEO करें.

तो दोस्तों इस लेख में इतना ही, उम्मीद करते हैं आपको मेरे द्वारा लिखा गया यह लेख Technical SEO Kya Hai जरुर पसंद आया होगा. इस लेख को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरुर करें और इसी प्रकार के उपयोगी लेख पढने के लिए हमारे ब्लॉग में आते रहिये. धन्यवाद||

0Shares
Categories SEO

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||

Leave a Comment