डिजिटल मार्केटिंग Sales Funnel Kya Hai और सेल्स फनल कैसे बनायें?

दोस्तों क्या आप जानते हैं Sales Funnel Kya Hai? Sales Funnel काम कैसे करता है? बिज़नस के लिए Sales Funnel क्यों जरुरी है? और अपने बिज़नस के लिए Sales Funnel कैसे बनायें? अगर आपको सेल्स फनल के बारे में जानकारी नहीं है तो इस आर्टिकल को पूरा अंत तक पढ़िए.

डिजिटल मार्केटिंग के इस दौर में अनेक शब्दों से हमारा पाला पड़ता है जिसमें से एक Sales Funnel भी है. अभी के समय में बिज़नस में बिक्री को बढ़ाने के लिए Sales Funnel का उपयोग बहुत अधिक मात्रा में किया जा रहा है, लगभग सभी बिज़नस और individual प्रोडक्ट की अधिक बिक्री के लिए सेल्स फनल का इस्तेमाल करते हैं. Sales Funnel प्रोडक्ट की बिक्री की संभवाना को काफी हद तक बढ़ा देता है.

Sales Funnel के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए लेख को अंत तक पढना जरी रखें. तो चलिए शुरू करते हैं बिना किसी देरी के.

सेल्स फनल क्या है (What is Sales Funnel)

Sales Funnel एक ऐसी प्रोसेस है जिसके द्वारा संभावित कस्टमर किसी प्रोडक्ट या सर्विस को खरीदता है. सेल्स फनल को आमतौर पर Purchase Funnel भी कहा जाता है. सेल्स फनल प्रोडक्ट बेचने वाले कंपनी और कस्टमर के बीच एक मजबूत रिलेशन स्थापित करता है जिससे बिक्री की संभावना बढ़ जाती है.

सेल्स फनल यह दर्शाता है कि प्रत्येक बिक्री बड़ी संख्या में संभावित कस्टमर के साथ शुरू होती है और अंत में बहुत कम संख्या के साथ समाप्त होती है, क्योंकि अंत में वही लोग बच जाते हैं जो प्रोडक्ट की वास्तव में खरीददारी करते हैं.

सेल्स फनल के कई सारे स्टेज होते हैं जिन्हें आमतौर पर Top Funnel, Middle Funnel और Bottom Funnel के नाम से जाना जाता है. हालाँकि कंपनी की बिक्री मॉडल के आधार पर यह स्टेज भिन्न हो सकते हैं. कुल मिलाकर कहें तो सेल्स फनल दर्शाता है कि एक संभावित कस्टमर को प्रोडक्ट की खरीददारी करने तक किन स्टेज से गुजरना पड़ता है.

सेल्स फनल का मतलब क्या है?

Funnel को हिंदी में हम कीप कहते हैं. कीप को आपने देखी ही होगी जिसका उपरी भाग बहुत चौड़ा होता है और जैसे – जैसे यह नीचे की ओर बढ़ता है इसकी चौड़ाई घटती जाती है. इसी प्रकार से Sales Funnel में भी शुरुवाती स्टेज में बहुत अधिक संख्या में ऑडियंस होती है और जैसे – जैसे वह प्रोडक्ट खरीदने की तरफ बढती है तो उनकी संख्या कम हो जाती है.

Sales Funnel काम कैसे करता है?

Sales Funnel को अच्छी प्रकार से समझने के लिए हम यह समझने की कोशिस करते हैं कि आखिर यह सेल्स फनल काम कैसे करती है. सेल्स फनल 4 स्टेज में काम करती है जो कि इस प्रकार से हैं – Awareness, Interest, Desire और Action. इन्हें short फॉर्म में AIDA (ऐडा) भी कहते हैं.

#1 – Awareness (जागरूकता)

जब भी कोई कंपनी अपना नया प्रोडक्ट लांच करती है तो सबसे पहले वह विभिन्न प्लेटफ़ॉर्म पर लोगों को अपने प्रोडक्ट के बारे में बताती है, यानि कि वह अपने प्रोडक्ट के बारे में लोगों को Aware करती हैं. Awareness के द्वारा कंपनी को Market Potential का पता चलता है मतलब कि उन्हें संभावित कितने कस्टमर मिल पायेंगें.

पहले के समय में कंपनियां अपने प्रोडक्ट की Awareness create करने के लिए टीवी विज्ञापनों, समाचार पत्रों, मार्केट बैनर, pamphlet इत्यादि का इस्तेमाल करती थी. प्रोडक्ट को प्रमोट करने के ये ट्रेडिशनल तरीके आज भी बहुत अधिक मात्रा में इस्तेमाल होते हैं.

चूँकि आज का दौर डिजिटल मार्केटिंग का है इसलिए अधिकांश कंपनियां फेसबुक एड्स, गूगल एड्स, सोलो एड्स जैसे प्लेटफ़ॉर्म पर विज्ञापन चलाकर अपने प्रोडक्ट को प्रमोट करती है. Awareness की स्टेज में ऑडियंस की संख्या बहुत अधिक होती है.

#2 – Interest (रूचि)

जब कंपनी अपने प्रोडक्ट की Awareness बनाती है तो उसमें से कई सारे लोग प्रोडक्ट में Interest दिखाते हैं, यानि उन्हें आपके प्रोडक्ट में रूचि है. जब भी आप अपने प्रोडक्ट की Awareness बना रहे हैं तो आपको अधिक से अधिक प्रोडक्ट का प्रचार करना चाहिए तभी जाकर लोग आप पर भरोसा करेंगें, और आपके प्रोडक्ट में interest दिखायेंगें.

जिस भी व्यक्ति को प्रोडक्ट में interest होता है वह विज्ञापन पर क्लिक करके कंपनी की वेबसाइट विजिट करता है, अपना नाम, नंबर या ईमेल एड्रेस को फॉर्म में सबमिट करता है, या कंपनी के Newsletter को सब्सक्राइब करता है. ट्रेडिशनल मार्केटिंग में जिन लोगों को प्रोडक्ट में interest होता है वह कम्पनी से संपर्क करते हैं.

Awareness की स्टेज में ऑडियंस बहुत अधिक संख्या में होती है लेकिन Interest के स्टेज में यह ऑडियंस फ़िल्टर हो जाती है. उदाहरण के लिए माना आपने 10 लाख लोगों को अपने प्रोडक्ट की Ad दिखाई तो उसमें में केवल 4 लाख ही प्रोडक्ट में interest दिखाएंगें. आप प्रोडक्ट में Interest दिखाने वाले लोगों को अपना कस्टमर नहीं समझ सकते हैं, क्योंकि आपको पता नहीं है कि वे लोग आपके प्रोडक्ट को लेंगें या नहीं.

#3 – Desire (इच्छा)

Sales Funnel के अगले स्टेज में आता है Desire यानि कि इच्छा. चूँकि अब आपके पास प्रोडक्ट में Interest रखने वाले लोगों की Contact Detail है इसलिए आप लोगों के अन्दर Desire पैदा कर सकते हैं कि वह आपके प्रोडक्ट को खरीदें.

Desire पैदा करने के लिए आपको ऑडियंस से एक अच्छा Relation बनाना पड़ता है. आपको ऑडियंस को बताना पड़ेगा कि किस प्रकार से आपका प्रोडक्ट उनके लिए फायदेमंद है, क्यों उन्हें आपका प्रोडक्ट खरीदना चाहिए.

इसके अलावा आप ऑफर की जानकारी, प्रोडक्ट की अपडेट, स्पेशल डिस्काउंट आदि के बारे में भी ऑडियंस को बता सकते हैं. इससे लोगों का आप पर भरोसा बढेगा और प्रोडक्ट बिकने की संभावना बढेगी.

इस स्टेज में ऑडियंस और अधिक फ़िल्टर हो जाती है, जैसे 4 लाख लोगों ने प्रोडक्ट में Interest दिखाया तो इसमें से 1 लाख लोगों के अन्दर प्रोडक्ट खरीदने का desire पैदा होगा.

#4 – Action (कार्यवाही)

फनल के इस स्टेज में आते हैं आपके कस्टमर यानि जो लोग आपका प्रोडक्ट खरीदते हैं. जब आप मार्केटिंग में Awareness, Interest और Desire की स्टेज को कम्पलीट कर लेते हैं तो अंत में आपको अपने कस्टमर मिल जाते हैं. यहाँ पर फनल और छोटी हो जाती है. जैसे 1 लाख लोगों के अन्दर आपके Desire पैदा किया तो उसमें से केवल 30 हजार ही आपका प्रोडक्ट खरीदेंगें.

बाकी जो 70 हजार लोग हैं जिनके मन में आपने Desire पैदा किया था आप उन्हें भी Continue प्रोडक्ट की Ad दिखा सकते है या कंपनी के ऑफर, डिस्काउंट आदि के बारे में बता सकते हैं. इससे भविष्य में संभावना होगी कि उन 70 हजार में से 20 हजार कन्वर्ट हो जाये.

तो दोस्तों इस प्रकार से डिजिटल मार्केटिंग में Sales Funnel काम करती है. आपने ऊपर उदाहरण से देखा ही होगा कि किस प्रकार से लोग हर स्टेज में फ़िल्टर हो रहे हैं और एक फनल बना रहे हैं. अंत में आपके पास केवल वही लोग बचते हैं जो आपके संभावित कस्टमर बन सकते हैं.

Sales Funnel कैसे बनायें?

जैसा कि अभी तक इस लेख में आपना देखा कि Sales Funnel आपके बिज़नस के लिए कितना प्रभावी है, चलिए अब जानते हैं कि कैसे आप अपने बिज़नस के लिए एक सेल्स फनल बना सकते हैं.

सेल्स फनल बनाने के लिए आपको स्पष्ट रूप से पता होना चाहिए कि आपका प्रोडक्ट किन लोगों के लिए है तभी आप सही Targeting कर पायेंगें, और अपने Potential ऑडियंस को ही अपने Ad दिखा सकेंगें. यहाँ हमने आपको तीन स्टेप में बिज़नस के लिए सेल्स फनल बनाने की प्रोसेस बताई है.

#1 – एक लैंडिंग पेज बनायें

सबसे पहले आपको अपने प्रोडक्ट के लिए एक लैंडिंग पेज बना लेना है, लैंडिंग पेज में आपके प्रोडक्ट की Information होती है. आप टेक्स्ट या विडियो फॉर्म में प्रोडक्ट की इनफार्मेशन लोगों को दे सकते हैं. जब आप ऑनलाइन विज्ञापन चलाते हैं तो आपको इस लैंडिंग पेज का इस्तेमाल करना है. यानि कि यूजर विज्ञापन पर क्लिक करके आपके लैंडिंग पेज तक पहुंचेंगें.

इसके साथ ही आप लैंडिंग पेज पर एक फॉर्म जरुर लगायें जिसमें लोग अपना नाम, नंबर और ईमेल सबमिट कर सकते हैं. जब आपके पास लोगों की Contact Detail आ जाती है तो आप उनसे लम्बे समय तक संवाद कर सकते हैं.

#2 – लीड जनरेट करें

जैसा कि ऊपर वाले पॉइंट में आपने पढ़ा कि लैंडिंग पेज में एक फॉर्म लगाना जरुरी है जिससे कि आप Lead Generate कर पायेंगें. आसानी से लीड जनरेट करने के लिए आप लोगों को कुछ वैल्यू प्रदान करें जिससे कि उनके फॉर्म को fill करने की संभावना बढ़ सके.

लीड जनरेट करने के लिए आप Lead Magnate का इस्तेमाल कर सकते हैं. जैसे आप उन लोगों के ईमेल एड्रेस पर एक फ्री eBook भेज सकते हैं जिन्होंने फॉर्म को fill किया है. या अगर आपका कोई सॉफ्टवेयर है तो आप कुछ दिनों का फ्री ट्रायल दे सकते हैं. अगर आप लोगों को कुछ वैल्यू प्रदान करेंगें तो आपको अधिक से अधिक Lead मिल पायेंगीं.

#3 – ऑडियंस से रिलेशन बनायें

जब आपके पास लीड आ जाती है फिर सबसे महत्वपूर्ण बिंदु आता है कि लीड को कस्टमर में बदलने का. चूँकि अब आपके पास अपने लक्षित ऑडियंस के ईमेल एड्रेस हैं तो आप प्रोडक्ट के ऑफर, डिस्काउंट इत्यादि की जानकारी उन्हें मेल कर सकते हैं. कहने का मतलब है आपको उनके मन में Desire पैदा करना है.

आपको नियमित रूप से ऑडियंस को ईमेल भेजने चाहिए ताकि आपका उनसे अच्छा रिलेशन बन पायें और वह वह आप पर भरोसा कर पायें. जितनी अच्छी तरह से आप लोगों को अपने प्रोडक्ट से कनेक्ट कर पायेंगें उतनी ही अधिक आपकी बिक्री होगी. तो इस प्रकार से आप भी अपने बिज़नस के लिए Sales Funnel बना सकते हैं और बिज़नस को Next Level पर ले जा सकते हैं.

Sales Funnel के फायदे

आपके बिज़नस के लिए Sales Funnel बहुत महत्वपूर्ण है, इसकी मदद से आप अपनी बिक्री को बढ़ा सकते हैं. सेल्स फनल के कुछ प्रमुख फायदे निम्नलिखित हैं –

  • सेल्स फनल से आप अपनी Advertising Cost को कम कर सकते हैं, क्योंकि इसके हर स्टेज में ऑडियंस फ़िल्टर हो जाती है. इसलिए आप विज्ञापन केवल उन्हीं को दिखा सकते हैं जिन्होंने आपके प्रोडक्ट को interest है.
  • Sales Funnel से आपको अपने वास्तविक कस्टमर मिलते हैं.
  • आपको प्रोडक्ट के बारे में केवल उन्हीं लोगों को बताना पड़ेगा जो प्रोडक्ट खरीदने की इच्छा रखते हैं.
  • सेल्स फनल प्रोडक्ट की बिक्री को आसान बना देते हैं, जिससे प्रोडक्ट बिक्री की संभावना बढ़ जाती है.
  • Sales Funnel से आप एफिलिएट प्रोडक्ट में अच्छे कन्वर्शन प्राप्त कर सकते हैं.

Sales Funnel बनाने के लिए सॉफ्टवेयर

आर्टिकल को यहाँ तक पढने पर आप समझ गए होंगें कि Sales Funnel Kya Hai, चलिए अब सेल्स फनल बनाने वाले कुछ बेस्ट सॉफ्टवेयर के बारे में भी जान लेते हैं.

मार्केट में आपको ढेर सारे सॉफ्टवेयर मिल जायेंगे जिनकी मदद से आप एक आकर्षक Sales Funnel बना सकते हैं. इनमें से अधिकतर सॉफ्टवेयर पेड होते हैं लेकिन यहाँ पर आप कुछ फनल फ्री में बना सकते हैं और कई सॉफ्टवेयर आपको 14 दिन या 1 महीने का फ्री ट्रायल भी देते हैं.

सेल्स फनल बनाने के लिए कुछ बेस्ट सॉफ्टवेयर निम्नलिखित हैं –

  • ClickFunnel
  • GrooveFunnel
  • Get Response
  • Builderall
  • Systeme.io
  • Karta इत्यादि.

FAQ: Sales Funnel Kya Hai

Q – डिजिटल मार्केटिंग में सेल्स फनल क्या है?

Sales Funnel एक मार्केटिंग टर्म है जो एक संभावित कस्टमर की प्रोडक्ट खरीदने तक की journey को दर्शाता है.

Q – सेल्स फनल की चार स्टेज क्या हैं?

सेल्स फनल की चार स्टेज Awareness, Interest, Desire तथा Action हैं जिन्हें हिंदी में क्रमशः जागरूकता, रूचि, इच्छा और कार्यवाही कहते हैं. Short फॉर्म में इसे AIDA कहा जाता है.

यह भी पढ़ें –

अंतिम शब्द,

तो दोस्तों यह थी Sales Funnel Kya Hai की कम्पलीट जानकारी, हमने इस आर्टिकल में कोशिस की है कि आपको सेल्स फनल के बारे में हर एक जानकारी प्रदान करा सकें जिससे कि आपको same इनफार्मेशन के लिए किसी अन्य ब्लॉग पर जाने की जरुरत ना पड़ें.

अगर अभी भी आपके मन में इस लेख से जुड़े कोई प्रश्न हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं हम जल्दी ही आपके सवालों का जवाब देने की कोशिस करेंगें. अगर आपको यह लेख पसंद आया तो इसे आप सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करें.

लेख को अंत तक पढने के लिए धन्यवाद||

0Shares

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||