35+ Best Blogging Tips in Hindi – 2022 में ब्लॉगर के लिए टॉप टिप्स

Blogging Tips in Hindi: – आज के समय में Blogging एक बिज़नस बन गया है क्योंकि इस Field में पैसे के साथ – साथ पहचान भी मिलती है, जिनमें से कुछ Best Hindi Blog भी शामिल हैं.

इसी कारण अब Blogging में बहुत Competition बढ़ गया है. हर दिन गूगल पर हजारों – लाखों ब्लॉग पोस्ट पब्लिश किये जाते हैं. इतना सारा Competition देख कर एक नए ब्लॉगर के मन में हमेशा भय रहता है कि उसे Blogging करनी चाहिए या नहीं?

इसका जवाब है आज के समय में Blogging गहरी रिसर्च और अच्छी Strategy के साथ ही करनी चाहिए, इससे आपके Blogging में Success होने की संभावना बढ़ जाती है.

आज के इस लेख में हम आपके साथ कुछ Best Blogging Tips in Hindi के बारे में जानकारी शेयर करने वाले हैं जिन्हें Follow करके आप Blogging में अपना सफल करियर बना सकते हैं. और इन टिप्स को लगभग हर एक सफल ब्लॉगर फॉलो करता है.

तो चलिए आपका अधिक समय ना लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को.

Table Of Contents
  1. Blog क्या है (What is Blog in Hindi)
  2. Blogging Tips in Hindi
  3. अंतिम शब्द: Blogging Tips in Hindi

Blog क्या है (What is Blog in Hindi)

Blog एक ऐसा ऑनलाइन मंच है जिसके द्वारा कोई व्यक्ति इन्टरनेट के माध्यम से अपने विचारों, अनुभवों या ज्ञान को लिखित रूप में दुनिया तक पहुंचा सकता है. इसके अलावा ब्लॉग के द्वारा लोग अपने बिज़नस को प्रमोट करते हैं.

Blogging Tips in Hindi

लेख में नीचे मैंने आपको 35+ Blogging Tips in Hindi के बारे में बताया है. मैंने कोशिस की है कि आपको क्रमबद्ध तरीके से यह टिप्स बताऊ जिससे कि आपको ब्लॉग बनाने और ब्लॉग में इन टिप्स को Apply करने में आसानी होगी.

यह टिप्स मैंने अपने अनुभव के आधार पर आपको बतायें हैं, क्योंकि मैं खुद इन्हें फॉलो करता हूँ और इनसे मुझे सकारात्मक परिणाम देखने को मिले. तो आइये जानते हैं इन सभी टिप्स को क्रमबद्ध रूप में.

1 – Niche Decide करें

ब्लॉग बनाने का सबसे पहला और सबसे महत्वपूर्ण भाग Niche Selection होता है, क्योंकि एक सही Niche ही आपको Blogging में सफलता दिलवा सकती है, इसलिए ब्लॉग शुरू करने से पहले आप अपने लिए एक सही Niche Decide जरुर करें. दुसरे लोगों को देखकर कि वह किस विषय में आर्टिकल लिख रहे हैं, कभी भी ब्लॉग न लिखें.

2 – अपनी Niche पर Research करें

बहुत सारे लोग Niche Select करने के बाद सीधे ब्लॉग बनाने लगते हैं, जो कि एक सही तरीका नहीं है. जब आप Niche Decide कर लेते हैं तो उसके बाद आपको अपने Niche पर अच्छे से Research करनी होती है, जैसे कि कौन से ब्लॉग उस Niche पर रैंक कर रहे हैं, क्या Niche Evergreen है, Niche का Future कैसा रहेगा आदि. इस प्रकार की तमाम सारी रिसर्च आपको ब्लॉग बनाने के पहले कर लेनी चाहिए.

3 – Competitor को Analysis करें

Niche Research करने के बाद आप अपने Competitor के ब्लॉग को Complete Analyze करें, जैसे उनका डोमेन नाम, वे कब से काम रहे हैं, उन्होंने कौन सी Theme, Plugin का इस्तेमाल किया है, उनके आर्टिकल, Backlink सब को Analyze करें.

4 – कीवर्ड रिसर्च करें

जब आप अपने Niche को अच्छे से समझ गए तो इसके बाद कम से कम 100 Low Competition Keyword को Find करें. इससे आपको यह फायदा मिलेगा कि जब आप काम करना शुरू करेंगे तो आपका दुबारा से कीवर्ड रिसर्च और कंटेंट रिसर्च करने में समय व्यर्थ नहीं होगा.

5 – टाइम टेबल बनायें

आपके पास ब्लॉग के लिए एक टाइम टेबल का होना जरुरी है कि कितने दिन में आप आर्टिकल पब्लिश करेंगे, आर्टिकल पब्लिश करने का टाइम क्या होगा, कब Backlink बनायेंगे आदि. शुरुवात में ही टाइम टेबल बना लेने से आपको यह फायदा मिलेगा कि आप अपना समय फालतू जगहों पर बरबाद नहीं करेंगे, और सीरियस होकर अपने ब्लॉग पर काम कर पायेंगे.

6 – WordPress पर ब्लॉग बनायें

जब आपने Complete Research कर ली और ब्लॉग के लिए एक टाइम टेबल बना लिया है, तो इसके बाद आता है Blogging Platform Select करना. मार्केट में अनेक सारे CMS हैं जिन पर आप ब्लॉग बना सकते हैं. लेकिन ब्लॉग बनाने के लिए सबसे बढ़िया और भरोसेमदं प्लेटफ़ॉर्म वर्डप्रेस है.

WordPress में आपको अनलिमिटेड थीम और प्लगइन मिल जाते हैं जिनकी मदद से आप अपने ब्लॉग को फ़ास्ट लोडिंग, सर्च इंजन फ्रेंडली और यूजर फ्रेंडली बना सकते हैं.

लेकिन अगर आपके पास बजट नहीं है तो आप गूगल के प्रोडक्ट Blogger पर फ्री में ब्लॉग बना सकते हैं. और जब थोड़े बहुत पैसे कमाने लग जायेंगे तो WordPress पर ब्लॉग को माइग्रेट कर सकते हैं.

7 – Top Level डोमेन नाम खरीदें

अगर आप अपने ब्लॉग को एक ब्रांड बनाना चाहते हैं तो एक Top Level Domain खरीदें, जैसे कि .com, .net, .org, .in आदि. क्योंकि ये डोमेन सर्च इंजन में अच्छा Perform करते हैं. कभी भी थोड़े बहुत पैसे बचाने के चक्कर में .xyz, .tk जैसे डोमेन नाम को ना खरीदें. अगर आप Blogger पर अपना ब्लॉग बनाना चाहते हैं तो भी आपको एक Top level डोमेन में निवेश करना चाहिए.

8 – एक अच्छी होस्टिंग खरीदें

WordPress पर ब्लॉग बनाने के लिए डोमेन के साथ जरुरत होती है एक होस्टिंग की. होस्टिंग एक ऑनलाइन स्पेस है जहाँ वेबसाइट के सारे कंटेंट स्टोर रहते हैं और इन्टरनेट पर Live रहते हैं.

अगर आप WordPress Blog बना रहे हैं तो आपको एक अच्छी होस्टिंग में निवेश करना चाहिए जो आपकी वेबसाइट को हमेशा Uptime रखे और जिसकी स्पीड भी अच्छी हो. आप Bluehost से होस्टिंग खरीद सकते हैं, यह एक बहुत फ़ास्ट होस्टिंग है, जिसका Support भी बहुत अच्छा है और साथ ही WordPress भी Bluehost को Recommended करता है.

Bluehost से होस्टिंग खरीदने का एक फायदा यह भी है कि आपको Bluehost के हर एक होस्टिंग प्लान में एक डोमेन नाम भी एक साल के लिए फ्री में मिल जाता है जिससे आपको डोमेन के पैसे बच जायेंगे.

9 – WordPress इनस्टॉल करें

डोमेन और होस्टिंग खरीदने के बाद आपको इन्हें आपस में Connect करना होता है, और होस्टिंग के cPanel पर वर्डप्रेस को इनस्टॉल करना होता है. अगर आप डोमेन और होस्टिंग एक ही कंपनी से खरीदते हैं तो आपको कनेक्ट करने में भी आसानी होती है.

10 – जरुरी प्लगइन इनस्टॉल करें

WordPress ब्लॉग के लिए आप अपने ब्लॉग के आवश्यकता अनुसार जरुरी वर्डप्रेस प्लगइन को इनस्टॉल करें, फ़ालतू प्लगइन को इनस्टॉल करने से बचें क्योंकि ज्यादा प्लगइन से वेबसाइट की स्पीड कम होती है. इसलिए जो आवश्यक प्लगइन हैं उन्हें ही इंस्टाल करें.

11 – थीम इनस्टॉल करें

वर्डप्रेस ब्लॉग में एक लाइटवेट, Responsive और फ़ास्ट लोडिंग Theme को इनस्टॉल करें. आप GeneratePress Theme का इस्तेमाल कर सकते हैं क्योंकि यह एक Clean और Lightweight थीम है जो आपके वर्डप्रेस ब्लॉग की Performance को Increase करेगी.

अगर आपके पास थोडा बहुत बजट है तो आप GeneratePress Premium थीम को खरीद सकते हैं, क्योंकि इसके फ्री वर्शन में आपको अधिक Feature नहीं मिलेंगे.

12 – ब्लॉग के लिए Logo बनायें

ब्लॉग के लिए एक प्रोफेशनल Logo बनायें. क्योंकि Logo विजिटर को लम्बे समय तक याद रहता है, इसलिए वे जहाँ भी आपके ब्लॉग के Logo को देखेंगे तो आसानी से आपके ब्लॉग को पहचान पायेंगे. साथ ही Logo से ब्लॉग Professional लगता है.

13 – Favicon लगायें

Favicon यूजर को ब्राउज़र में Tab के Left Side में दिखता है. यह एक छोटा सा आइकॉन होता है जिससे ब्राउज़र में विभिन्न टैब Open करने पर भी यूजर सभी किसी वेबसाइट को Favicon से पहचान सकता है. साथ ही यह ब्लॉग को एक यूनिक Look प्रदान करता है.

14 – ब्लॉग को डिजाईन करें

उपरोक्त सारी प्रोसेस को Complete करने के बाद ब्लॉग को डिजाईन करें. ब्लॉग को ज्यादा चमक – धमक ना बनाकर एक Simple look दें और Proper navigation लगायें. इससे यूजर ब्लॉग को आसानी से एक्सेस कर सकते हैं और ब्लॉग भी दिखने में अच्छा लगता है.

15 – ब्लॉग के लिए जरुरी पेज बनायें

ब्लॉग में कुछ जरुरी पेज होते हैं जिन्हें बनाना आवश्यक होता है, जैसे About Us, Contact Us, Privacy Policy आदि. ये ब्लॉग सर्च इंजन और यूजर दोनों के Point of View से बहुत महत्वपूर्ण होते हैं.

16 – ब्लॉग के लिए सोशल मीडिया पेज बनायें

ब्लॉग के लिए कम से कम 5 विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर पेज जरुर बनायें. क्योंकि जब आप आर्टिकल पब्लिश करना शुरू करेंगे तो साथ में ही सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं.

17 – ब्लॉग को गूगल सर्च कंसोल में सबमिट करें

Google Search Console गूगल के द्वारा बनाया गया एक टूल है जो केवल Publisher के लिए है. अपनी वेबसाइट को गूगल सर्च कंसोल में सबमिट करने से आप देख सकते हैं कि आपके पोस्ट गूगल में इंडेक्स हो रहे हैं या नहीं, किसी वेबपेज में कोई Error तो नहीं हैं और साथ में अपने Organic Traffic को भी ट्रैक कर सकते हैं.

18 – Sitemap Submit करें

जब आप गूगल सर्च कंसोल में ब्लॉग को सबमिट करते हैं तो उसके साथ ब्लॉग के Sitemap को भी Submit करना होता है. Sitemap सर्च इंजन क्रॉलर को ब्लॉग का एक ऐसा map बनाकर देते हैं जिससे क्रॉलर को ब्लॉग की Crawling में आसानी होती है.

19 – Robots.txt फाइल बनायें

Robots.txt ब्लॉग में एक ऐसी फाइल होती है जो सर्च इंजन क्रॉलर को निर्देश देता है कि ब्लॉग के कौन से पेज को क्रॉल करना और कौन से पेज को नहीं. इसलिए ब्लॉग में Robots.txt फाइल बनाकर कम महत्वपूर्ण या प्राइवेट पेज की Indexing को ब्लॉक करें.

20 – ब्लॉग को Google Analytics में add करें

Google Analytics भी गूगल का ही एक टूल है और यह भी Publisher को ही प्रदान किया गया है. इस टूल के द्वारा आप अपने ब्लॉग में आने वाले हर एक ट्रैफिक को Analyze कर सकते हैं और साथ में ब्लॉग पर Real Time यूजर भी देख सकते हैं. ब्लॉगर के लिए यह एक बहुत उपयोगी Tool है इसलिए अपनी वेबसाइट को Google Analytics में Add करें.

21 – नियमित रूप से ब्लॉग पोस्ट लिखें

नियमित रूप से ब्लॉग में आर्टिकल पब्लिश करें. आर्टिकल को एक Schedule में पब्लिश करें, कहने का मतलब है कि आर्टिकल पब्लिश करने का दिन और समय निश्चित रखें. इससे आपके आर्टिकल जल्दी Index होंगे.

22 – ब्लॉग पोस्ट को केटेगरी में add करें

ब्लॉग पोस्ट को केटेगरी में Add करें और अलग – अलग विषयों के पोस्ट के लिए अलग – अलग केटेगरी का इस्तेमाल करें. ब्लॉग पोस्ट को केटेगरी वाइज लिखने से आपको Navigation बनाने में आसानी होती है और यूजर अपनी पसंद के अनुसार आर्टिकल को आसानी से एक्सेस कर सकते हैं.

23 – यूनिक आर्टिकल लिखें

हमेशा खुद से ही यूनिक आर्टिकल लिखें, क्योंकि जब तक आपको लिखना नहीं आयेगा आप Blogging में सफलता प्राप्त नहीं कर सकते हैं. आपको किसी अन्य ब्लॉग से आर्टिकल Copy/ Paste करके नहीं लिखना चाहिए, क्योंकि Copy आर्टिकल को अब गूगल इंडेक्स भी नहीं करता है और ना ही कॉपी आर्टिकल गूगल में रैंक करते हैं.

24 – कॉपीराइट फ्री इमेज का इस्तेमाल करें

यूनिक आर्टिकल के साथ आपको कॉपीराइट फ्री इमेज का इस्तेमाल करना चाहिए. इन्टरनेट में अनेक सारी वेबसाइट मौजूद हैं जहाँ से आप अपने आर्टिकल के लिए Copyright Free Image Download कर सकते हैं. जैसे Pixabay, Unsplash आदि.

25 – On Page SEO करें

ब्लॉग पोस्ट का On Page SEO करें क्योंकि एक SEO फ्रेंडली आर्टिकल ही गूगल में रैंक करता है. इसके साथ ही आपके कंटेंट में दम होना चाहिए, कहने का मतलब है आपको ऐसा कंटेंट लिखना चाहिए जो यूजर की Query का संतोषपूर्ण जवाब दे सके.

26 – पुराने पोस्ट को अपडेट करें

नए पोस्ट पब्लिश करने के साथ – साथ पुराने पोस्ट को भी अपडेट करते रहे, और उनमें कुछ अतिरिक्त नयी जानकारी को भी जोड़ें. इससे आपके कोई पोस्ट Out date नहीं होते हैं.

27 – Technical SEO सही रखें

अनेक सारे नए ब्लॉगर Technical SEO पर ध्यान नहीं देते हैं, क्योंकि बहुत कम YouTube चैनल या ब्लॉग में Technical SEO के बारे में ज्यादा बात होती है. लेकिन ब्लॉग को रैंक करवाने के लिए Technical SEO बहुत महत्वपूर्ण है. आप लिंक पर क्लिक करके Technical SEO के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

28 – ब्लॉग पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करें

अपने ब्लॉग पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करें. सोशल मीडिया की पॉवर से आप जरुर वाकिफ होंगे. ब्लॉग को सोशल मीडिया पर शेयर करने से ब्लॉग पर Instant Traffic मिलता है और आप पहले दिन से ही अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक प्राप्त कर सकते हैं.

29 – Push Notification या Email Subscribe को जोड़ें

ब्लॉग में आपको Push Notification या Email Subscribe को जरुर Add करना चाहिए. इससे होता यह है कि अगर कोई यूजर Notification को Allow करेगा या Email के द्वारा ब्लॉग को Subscribe करेगा तो जब भी आप नयी पोस्ट पब्लिश करेंगे उस यूजर के पास इसका Notification चले जायेगा और आपके ब्लॉग पर Instant ट्रैफिक आएगा. यह Off Page SEO की एक Technique है.

बैकलिंक SEO में Important फैक्टर है. यह आपकी वेबसाइट की Visibility को बढाता है और High Competition कीवर्ड पर ब्लॉग को रैंक करवाने में मदद करता है. इसलिए समय – समय पर ब्लॉग के लिए Backlink भी बनाने चाहिए. पर बैकलिंक बनाते समय एक बात का ध्यान रखें कि Backlink की Quality पर फोकस करें ना कि Quantity पर.

31 – SEO Audit करें

महीने में कम से कम 2 या 3 बार ब्लॉग का SEO Audit भी करें, और ब्लॉग में आ रहे हर एक Issue को Solve करें. जैसे ब्रोकन लिंक फिक करें, अगर Spam Score बढ़ गया है तो उसे कम करें, वेबसाइट की स्पीड को मेन्टेन रखें आदि.

32 – ब्लॉग को मोबाइल फ्रेंडली बनायें

आज के समय में अधिकतर ब्लॉग मोबाइल से पढ़े जाते हैं इसलिए ब्लॉग का मोबाइल फ्रेंडली होना जरुरी है. आप एक Responsive Theme का इस्तेमाल करें या फिर AMP को Enable कर सकते हैं. इससे आप अपने ब्लॉग को आसानी से Mobile Friendly बना सकते हैं.

33 – ब्लॉग को सुरक्षित करें

आजकल इन्टरनेट पर एक ओर जहाँ अच्छे लोग हैं तो वहीं दूसरी ओर बुरे लोग भी भरे पड़े हैं, जो लोगों की वेबसाइट को हैक करते हैं. इसलिए आपको अपनी वेबसाइट को सुरक्षित रखना चाहिए. आप एक Strong पासवर्ड बनाकर और कुछ Security Plugin जैसे Wordfence, Hide Login आदि को इंस्टाल करके अपनी वेबसाइट को सिक्योर कर सकते हैं.

34 – कमेंट का Reply करें

विजिटर आपके ब्लॉग पर जो कमेंट करते हैं उनका Reply करें. इससे विजिटर का ब्लॉग के साथ अच्छा Relation बनता है और आगे जब भी उसे कोई समस्या आएगी तो वह आपके ब्लॉग को जरुर Visit करेगा. ब्लॉग में ज्यादा कमेंट होने से भी सर्च इंजन को यह Signal जाता है कि ब्लॉग का कंटेंट अच्छा है और ब्लॉग को सर्च इंजन रिजल्ट पेज पर बेहतर रैंकिंग मिलती है.

35 – नियमित रूप से बैकअप लें

ब्लॉग का नियमित रूप से बैकअप लेते रहें, वैसे आपको Daily Backup लेना चाहिए. क्योंकि कभी – कभी हमारी कुछ गलती के कारण ब्लॉग में Error आ जाती है, इस स्थिति में आप बैकअप को Restore कर सकते हैं. आप जब भी ब्लॉग में कोई Code add करते हैं या कुछ Changes करते हैं तो उससे पहले ब्लॉग का Backup जरुर लें.

WordPress ब्लॉग में आप Updraft जैसे प्लगइन के द्वारा बैकअप ले सकते हैं. और Blogger में बैकअप लेने के लिए इस लेख को पढ़ सकते हैं.

36 – ब्लॉग को मोनेटाइज करें

ब्लॉग को विभिन्न माध्यमों से Monetize करके पैसे कमाना शुरू करें. ब्लॉग से पैसे कमाने के लिए सिर्फ एक Source पर आश्रित ना रहें, Multiple Source बनायें. आप ब्लॉग को निम्नलिखित माध्यमों के द्वारा मोनेटाइज करके पैसे कमा सकते हैं.

कुछ महत्वपूर्ण लेख –

अंतिम शब्द: Blogging Tips in Hindi

इस लेख में हमने आपको बहुमूल्य Blogging Tips in Hindi के बारे में बताया, अगर आप लेख में बताये गए टिप्स को अपने Blogging Career में फॉलो करते हैं तो आप जरुर Blogging में सफलता प्राप्त कर सकते हैं, और अच्छी कमाई अपने ब्लॉग के द्वारा कर सकते हैं.

तो दोस्तों इस लेख में इतना ही, आशा करता हूँ आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख जरुर पसंद आया होगा, इस लेख को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करें, और Blogging के बारे में इसी प्रकार के ज्ञानवर्धक लेख पढने के लिए हमारे ब्लॉग पर आते रहिये.

लेख को अंत तक पढने के लिए धन्यवाद||

0Shares

Hey Friends, I am Devendra Rawat. I am Blogger|| Hinditechdr.com Blog बनाने का मेरा यही मकसद है कि Hindi Readers को Blogging, SEO, Internet आदि की सटीक जानकारी हिंदी भाषा में प्रदान करा सकूँ. मेरे Blog पर आने के लिए धन्यवाद ||

Leave a Comment